\
सुशांत सुसाइड केस: रिया चक्रबोर्ती संग 7 लोगों पर एफआईआर
Friday, August 07, 2020 18:04 IST
By Santa Banta News Network
बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ख़ुदकुशी मामले की गुत्थी लगातार उलझती ही जा रही है और जांच का दायरा भी पहले से ज्यदा बढ़ गया है| मुंबई पुलिस और पटना पुलिस के बीच की खींचतान के बाद अब यह केस सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया गया है| सीबीआई ने मामले की जांच बारीकी से करनी शुरू कर दी है, हाल ही में टीम ने पूरे मामले को ध्यान में रखते हुए रिया चक्रवर्ती सहित 7 लोगों पर अलग-अलग धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज कर ली गई है| इस खबर के सामने आते ही सुशांत के फैन्स काफी खुश नज़र आ रहे हैं और वह न्यायालय से उम्मीद लगा रहे हैं कि अब शायद असली आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा|

सभी आरोपियों की जानकारी इस प्रकार है, पहली सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती, दूसरा उनका भाई शोविक चक्रवर्ती, तीसरा उनके पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती, चौथी रिया की मां संध्या चक्रवर्ती, पांचवां सुशांत का हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा, छठा सुशांत की पूर्व सेक्रेटरी श्रुति मोदी और सातवें आरोपी के नाम के बारे में अभी कोई खुलासा नही किया गया है| सीबीआई फिलहाल इस केस की जाँच कर रही है और इस मामले में निम्नलिखित धाराओं में केस दर्ज किया है

धारा 306: केस- किसी को हत्या के लिए उकसाना इसके लिए सजा- ज्यादा से ज्यादा 10 साल जेल (गैर जमानती)
धारा 420: केस-धोखाधड़ी इसके लिए सजा- ज्यादा से ज्यादा 7 साल की जेल (गैर जमानती)
धारा 380: केस- चोरी इसके लिए सजा- ज्यादा से ज्यादा 7 साल की जेल (गैर जमानती)
धारा 506: केस- आपराधिक धमकी इसके लिए सजा- ज्यादा से ज्यादा 7 साल की जेल (जमानती)
धारा 406: केस- विश्वास में दी गई संपत्ति का गलत इस्तेमाल या बेचना, वापस ना देना इसके लिए सजा- ज्यादा से ज्यादा 3 साल (गैर जमानती)
धारा 341: केस- किसी व्यक्ति को गलत तरीके से रोकना इसके लिए सजा- ज्यादा से ज्यादा 1 महीने की जेल (जमानती)
धारा 342: केस- किसी को गलत तरीके से प्रतिबंधित करना इसके लिए सजा- ज्यादा से ज्यादा 1 साल की जेल (जमानती)

खबरों की मानें तो सीबीआई का कहना है कि आरोप गंभीर हैं, जिसके तहत अलग-अलग धाराएं लगाई गई हैं| सीबीआई की टीम ने पूरे मामले को जल्दी से सुलझाने के लिए तैयारी काफी तेज कर दी हैं| हाल हुई में अभिनेता सुसाइड केस जांच के लिए SIT का गठन कर दिया गया है और इसका निर्देशक मनोज शशिधर को बनाया गया है| इस मामले में डीआईजी गगनदीप और अनिल यादव जाँच अधिकारी होंगें|
Hide Comments
Show Comments