​फिल्म समीक्षा:  बेहतरीन निर्देशन और अभिनय का​ बेजोड़ मेल है ​​'शमिताभ'​
Saturday, February 07, 2015 16:02 IST
By Santa Banta News Network
​अभिनय​​: अमिताभ बच्चन, धनुष और अक्षरा हासन​

​​ निर्देशक: आर ​बाल्की

​ रेटिंग: **​

​​ '​​​चीनी कम​'​ और 'पा' के​​ बाद आर बल्कि एक बार फिर से अमिताभ बच्चन के साथ अपनी तीसरी फिल्म 'शमितभ' लेकर आए हैं। इस बार भी बल्कि की कहानी पहली दो फिल्मों की ही तरह लीक से हटकर है और कहा जा सकता है की बल्कि ने एक दर्शकों को एक मनोरंजक फिल्म दी है।

​ फिल्म की कहानी ​एक छोटे शहर के एक गूंगे युवक दानिश (धनुष) की है जिस पर अभिनेता बनने की धुन सवार है। वह घर के खर्चों के लिए बस कंडक्टर का काम करता है और सारा पैसा माँ की दवाइयों में लगा देता है। लेकिन जिंदगी के ये संघर्ष उसके अभिनेता बनने की चाहत को दबा नहीं पाते। माँ के गुजर जाने के बाद वह मुंबई जाता है। वहां काफी समय तक स्टूडियो के चक्कर काटने और संघर्षों के बाद वह एक सह-निर्देशिका अक्षरा (अक्षरा हासन) से टकराता है। अक्षरा को उसमें एक अभिनेता बनने संभवना नजर आती है और वह दानिश की मदद करती है। अक्षरा अपने डॉक्टर पिता के दोस्त की मदद से गूंगे दानिश को एक शराबी अमिताभ सिन्हा (अमिताभ बच्चन) की आवाज दिलाती है। जब दानिश एक सफल अभिनेता बन जाता है तो इसके बाद आवाज के मालिक अमिताभ और चेहरे से पहचाने जाने वाले दानिश को अपनी-अपनी काबिलियत पर अहम और आपसी टकराव होना शुरू हो जाता है। इसी टकराव पर आधारित कहानी है 'शमितभ'।

​ ​फिल्म का निर्देशन काफी बेहतर है। आर बल्कि का लीग से हटकर सोचना और उस पर कार्य करना काबिलेतारीफ है। फिल्म के कुछ दृश्यों में उन्होंने अपनी उच्च निर्देशन क्षमता का परिचय दिया है।

​​ ​अभिनय की बात करें तो अमिताभ बच्चन इस हुनर में इतने रमे हुए हैं कि उनकी तारीफ़ करने के लिए शब्दों का चुनाव कर पाना बेहद कठिन है। लेकिन इस बार दर्शकों को बिग बी की तरफ से डबल बोनांजा मिल रहा है ना सिर्फ अमिताभ बच्चन का अभिनय देखने को मिलेगा बल्कि इस बार फिल्म में उनकी आवाज ने भी खास भूमिका निभाई है।​

​​ वहीं 'रांझणा' में अभिनय करने के बाद धनुष की यह दूसरी बॉलीवुड फिल्म है और उन्होंने इस फिल्म में भी पहले की ही तरह बेहतरीन परफॉर्मेंस दी है। लेकिन साथ ही यहाँ यह भी कहना पड़ेगा कि वह बिगबी के सामने थोड़े से असहज भी दिखे दिखे। वहीं अक्षरा हासन की यह पहली फिल्म थी लेकिन उन्होंने यह दिखा दिया है कि अभिनय उनके खून में है।

​​ वहीं फिल्म का संगीत ज्यादा प्रभावशाली नहीं है लेकिन फिल्म की कहानी के अनुसार फिट बैठता है। 'शमितभ' निर्देशक अार बल्कि के कुशल निर्देशन और फ़िल्मी सितारों के उम्दा अभिनय का बेजोड़ मेल है।
Hide Comments
Show Comments