•  

    सार्वजानिक शौचालय!
    पता नहीं अब सब इकट्ठे यहाँ कैसे जायेंगे!