बॉलीवुड फिल्मों के 'नॉट सो गुड' सीक्वल!

  • बॉलीवुड फिल्मों के 'नॉट सो गुड' सीक्वल!

    बॉलीवुड फिल्मों के 'नॉट सो गुड' सीक्वल!

    कई बॉलीवुड फिल्मों के सीक्वल बनते हैं, कुछ हिट रहते है तो कुछ फ्लॉप तो कुछ ऐसे भी रहते हैं जो हिट होने के बाद भी पिछली फिल्म जैसा जादू चलाने में नाकाम रहते हैं, आईये देखें कौन से हैं ये सीक्वल!

  • सरकार राज

    सरकार राज

    राम गोपाल वर्मा की सरकार के बाद आया इसका सीक्वल सरकार राज मगर यह पिछली फिल्म की तरह तारीफ बटोरने में नाकाम रही और इसका सीक्वल 'सरकार 3' तो और भी गया गुज़रा निकला.

  • भेजा फ्राई 2

    भेजा फ्राई 2

    सागर बेल्लारी की 'भेजा फ्राई' छोटे बजट पर बनी थी और कामयाब रही जिसके कारण मौका मिला उन्हें इसका सीक्वल बनाने का मगर भेजा फ्राई 2 ने सच में दर्शकों का भेजा फ्राई कर दिया हालांकि फिल्म ठीक ठाक कमाई करने में कामयाब रही.

  • डबल धमाल

    डबल धमाल

    धमाल ने दर्शकों को ख़ूब हंसाया था मगर इसका सीक्वल डबल धमाल दर्शकों को हंसाने की कोशिश करता दिखा था. यह फिल्म भी पिछली फिल्म की तरह जादू चलाने में नाकामयाब रही.

  • हथियार

    हथियार

    महेश मंजरेकर की फिल्म 'वास्तव' ने अपने लिए बॉलीवुड के इतिहास में जगह बना ली है. फिल्म के डायलॉग्स और कहानी बॉलीवुड की एवरग्रीन फिल्मों में शुमार हैं और दूसरी तरफ है इसका सीक्वल 'हथियार' जो की बॉक्स ऑफिस पर पानी भी नहीं मांग पायी और बुरी तरह पिट गयी.

  • अक्सर 2

    अक्सर 2

    अक्सर की कामयाबी के बाद अनंत महादेवन लेकर आये इसका पार्ट 2, मगर इमरान हाश्मी के बिना अक्सर का ये सीक्वल बॉक्स ऑफिस अक्सर आती और जाती फिल्मों की ही तरह ही आई और चली गयी, वो भी बिना किसी को बताये.

  • ग्रैंड मस्ती

    ग्रैंड मस्ती

    2004 में आई इंद्र कुमार की फिल्म मस्ती बॉलीवुड की एवरग्रीन कॉमेडी फिल्मों में शामिल हो गयी. 9 साल बाद आया इसका सीक्वल जिसे इतनी बेकार रेटिंग मिली की इसने पिछली फिल्म द्वारा कमाई इज्ज़त को मिट्टी में मिला दिया. हालांकि फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छे नोट छापे.

  • वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई दोबारा

    वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई दोबारा

    जितना लम्बा और बेतुका इस फिल्म का नाम है उतनी ही लम्बी और बेमतलब थी मिलन लुथरिया की ये फिल्म. आज अक्षय कुमार बैक टू बैक हिट दे रहे हैं मगर एक ये समय ये भी था जब अक्षय बैक टू बैक फ्लॉप दे रहे थे जिनके बीच 'वन्स अपॉन अ टाइम इन मुंबई दोबारा' सीना तान के खड़ी थी.

  • कृष 3

    कृष 3

    बॉलीवुड को 'कृष' के रूप में पहला सुपरहीरो देने वाले राकेश रौशन की 'कृष 3' में कई बातें अजीब थी. पहली, कृष 2 कहाँ गयी? कृष के बाद सीधा कृष 3!. अपने म्यूजिक के लिए मशहूर राजेश रौशन ने इस फिल्म में इतना बेकार म्यूजिक दिया की म्यूजिक ना ही देते तो बेहतर था. फिल्म की कहानी भी हॉलीवुड को कॉपी करती नज़र आई मगर फिर भी इसने 200 करोड़ कमा ही लिए.

  • रेस 2

    रेस 2

    अब्बास-मस्तान की रेस थ्रिल से भरपूर थी और इसीलिए उन्हें ख़याल आया की इसका सीक्वल बनाया जाए. अब पिछली फिल्म के कारण लोग फिल्म देखने आ गए और फिल्म चल भी गयी मगर रेस 2 को रिव्यु बेहद बेकार मिले, और इसके सीक्वल रेस 3 की बात न ही की जाए बेहतर होगा.

  • रॉक ऑन 2

    रॉक ऑन 2

    2008 में आई रॉक ऑन से फरहान अख्तर ने बॉलीवुड में डेब्यू किया था और हर तरफ से अपने लिए तारीफ बटोरी थी. जबकि इसका सीक्वल रॉक ऑन 2 उसी स्टारकास्ट, बड़े बजट और श्रद्धा कपूर को मिला कर भी कमाल नहीं कर पाया. फिल्म आते ही बॉक्स ऑफिस से गायब हो गयी.

Popular Slideshows

Hide Comments
Show Comments