•  

    एक बार एक किसान एक बंजर ज़मीन का टुकड़ा खरीदता है, जिसे की वह एक संपन्न उद्यम में बदलने की लालसा रखता है, जब वह उस खेत को खरीदता है तो उसमे बहुत सारी जंगली झाड़ियाँ और जंगली पौधे लगे हुए होते और उस खेत की बाड़ भी टूटी हुई होती है!

    एक दिन वह किसान अपने खेत में काम कर रहा होता है तो वहां गाँव का एक उपदेशक आता है, और उस किसान को आशीर्वाद देता है की, "मैं कामना करता हूँ कि, तुम और भगवान् साथ मिल कर अपने सपनों को पूर्ण कर सको!

    कुछ महीनों जब वह उपदेशक फिर से उस जगह से गुज़रता है, तो रुक कर उस पूरे खेत को निहारता है और देखता है की वह जगह अब पूरी तरह से बदल चुकी होती है, जहां की अब बहुत सारे पशु और मवेशी चारा खा रहे होते हैं, और साथ ही हरी-भरी फसल लहलहा रही होती है!

    यह देख वह उपदेशक उस किसान से कहता है, "देखा तुमने और भगवान् ने साथ मिल कर क्या कमाल कर दिखाया है!"

    इस पर किसान जवाब देता है, "जी हाँ बाबा, और आपको तो याद ही होगा की जब भगवान् अकेले काम करते थे तो इस खेत का क्या हाल था!"
  • असामान्य दिन एक बार एक आदमी शनिवार कि सुबह कुछ बड़ी ही असामान्य सी आशंका के साथ उठ बैठता है, जिसमे उससे लगता है कि आज का दिन उसके लिए कुछ अलग होने वाला है...
  • मछली का चारा एक बार एक मछुआरा नदी किनारे मछली पकड़ने जाता है, परन्तु उसे तालाब के पास पहुँच कर एहसास होता है कि वह मछली पकड़ने के लिए चारा तो ले कर ही नहीं आया...
  • वाद विवाद एक बार एक दम्पति के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो जाता है, जिसमे कि दोनों ही अपनी गलती मानने के लिए तैयार नहीं होते...
  • सफल ऑपरेशन एक बार एक राजनीतिज्ञ गंभीर शल्य चिकित्सा के बाद बेहोशी से जागता है, तो वह अपने आप को एक ऐसे कमरे में पाता है जहां की सभी मरीज़ अंधे होते हैं...
  • परिवार के साथ छुट्टियां एक बार एक स्कूल में प्राचार्य के कार्यालय में टेलीफोन बजता है! फ़ोन उठाकर प्राचार्य कहते हैं "नमस्ते, मै शिशु विद्यालय से बोल रहा हूँ...