लोग अलग दुःख अलग!

आदमियों की उदासी के कारण:
धंधा (Bussiness) मंदा चल रहा है।
बाल उड़ रहे हैं।
क्रेडिट कार्ड का बिल भरना है।
परिवार की मांगे पूरी करनी है।
.
. .
. . .
औरतों की उदासी के कारण:
प्रोफाइल की फोटो बदले 2 मिनट हो गए हैं, अभी तक किसी ने पसंद नहीं किया।
पता नहीं सबको नया (recent ) आधुनिक (Updates) में दिख रहा है कि नहीं।
Send to your FB Contact's Inbox directly
 
Hide Comments
Show Comments
कुदरत ने औरत को हसींन बनाया।
खूबसूरती दी।
चाँद सा चेहरा दिया।
हिरणी सी आँखें...
एक लड़का एक कोचिंग सेंटर में प्री-मेडिकल-टेस्ट की तैयारी कर रहा था।
फिजिक्स उस लड़के को बिलकुल समझ में नहीं आता था और सारे लेक्चर उसके सिर के ऊपर से निकल जाते थे।
एक दिन उसने टीचर से पूछा...
एक बहुत बड़ा सरोवर था। उसके तट पर मोर रहता था, और वहीं पास एक मोरनी भी रहती थी। एक दिन मोर ने मोरनी से प्रस्ताव रखा कि "हम तुम विवाह कर लें, तो...
जिस समय रावण मरणासन्न अवस्था में था, उस समय भगवान श्रीराम ने लक्ष्मण से कहा कि इस संसार से नीति, राजनीति और शक्ति का महान् पंडित विदा ले रहा है, तुम उसके पास जाओ और...
कुछ हिंदी फ़िल्मी गीत जो कुछ बीमारियों का वर्णन करते हैं:
गीत - जिया जले, जान जले, रात भर धुआं चले
बीमारी - बुखार
गीत - तड़प-तड़प के इस दिल से...