•  

    पठान अपनी बैलगाडी में अनाज के बोरे लादकर शहर ले जा रहा था। अभी गाँव से निकला ही था कि एक खड्डे में उसकी गाड़ी पलट गई। पठान गाड़ी को सीधी करने की कोशिश करने लगा। थोड़ी ही दूर पर एक पेड़ के नीचे बैठे एक राहगीर ने यह देखकर आवाज़ दी, "अरे भाई, परेशान मत हो, आ जाओ मेरे साथ पहले खाना खा लो फिर मैं तुम्हारी गाड़ी सीधी करवा दूंगा।"

    पठान: धन्यवाद, पर मैं अभी नहीं आ सकता। मेरा दोस्त बशीर नाराज़ हो जायेगा।

    राहगीर: अरे तुझसे अकेले नहीं उठेगी गाड़ी। तू आजा खाना खा ले फिर हम दोनों उठाएंगे।

    पठान: नहीं, बशीर बहुत गुस्सा हो जायेगा।

    राहगीर: अरे मान भी जाओ। आ जाओ तुम मेरे पास।

    पठान: ठीक है आप कहते हैं तो आ जाता हूँ।

    पठान ने जमकर खाना खाया फिर बोला, "अब मैं चलता हूँ गाड़ी के पास और आप भी चलिए। बशीर गुस्सा हो रहा होगा।"

    राहगीर ने मुस्कुराते हुए कहा, "चलो पर तुम इतना डर क्यों रहे हो? वैसे अभी कहाँ होगा बशीर?"

    पठान: गाड़ी के नीचे।
  • सौ सुनार की एक लौहार की! एक औरत घर पर अकेली थी, तभी दरवाजे पर दस्तक हुई। जब उसने दरवाजा खोला तो एक अनजान आदमी खड़ा था और उस औरत को देखते ही बोला, "अरे आप तो बहुत ही खूबसूरत हैं।"
    औरत ने घबरा कर दरवाजा...
  • प्यार V/s दारू! प्यार पागल बनाता है!
    दारू मूड फ्रेश करती है!
    प्यार में नींद नही...
  • कहानी जुगाड़ की! पिता लड़के से: मैंने तुम्हारी शादी के लिए एक लड़की देखी है।
    लड़का: लेकिन मैं अपनी मर्जी से शादी करूँगा।
    पिता: लेकिन वो लड़की बिल गेट्स...
  • लड़कों के पांच दुःख! 1) लड़की अगर दिल से अच्छी हो तो अच्छी दिखती नहीं है।
    2) लड़की अगर अच्छी दिखे तो दिल से अच्छी होती...
  • सास की लाड़ली बहु! बहू रोए जा रही थी। सास ने पुचकारते हुए पूछा, "क्यों बेटी, रो क्यों रही है?"
    बहू: क्या मैं चुड़ैल जैसी दिखती हूं?
    सास: नहीं, बिल्कुल...