•  

    गली से एक भिखारी गुज़र रहा था, एक घर का दरवाज़ा खुला था और अंदर एक बुढ़िया बैठी थी। उसे देख भिखारी बोला, "खाने के लिए रोटी दे दो, अम्मा।"

    बुढ़िया: रोटी तो अभी बनी नहीं है, बाद में आना।

    भिखारी: ठीक है ये लो मेरा मोबाइल नंबर जब बन जाये तो मिस कॉल मार देना।

    ये सुन बुढ़िया के होश उड़ गए पर वो कहाँ कम थी बोली, "मिस कॉल क्या करनी, जब बन जाएगी तो WhatsApp पे डाल दूंगी। वहीँ से डाउनलोड करके खा लेना।"

    ये सुनकर भिखारी बेहोश हो गया।
  • भारत के रायचंद! भारत एक अत्यंत राय बांटू प्रवत्ति का देश है। यहाँ प्राय: चार किस्म के `रायचंद` पाए जाते हैं।
    1. लघु ज्ञानचंद - अकर्मण्य...
  • भाखड़ा नंगल डैम पर निबंध! हिंदी की परीक्षा में "भाखड़ा नांगल डैम" पर निबंध लिखने को आया।
    भाखड़ा नांगल डैम सतलज नदी पर बना हुआ है।
    सतलज...
  • गलतफहमी! एक औरत हाथ में हथौड़ा लिये अपने बेटे के स्कूल में पहुंची और चपरासी से पूछ्ने लगी, "शुक्ला सर की क्लास कौन सी है?...
  • मरने के बाद भी! पत्नी अपने पति के श्राद्ध पर, खीर और पूरी बना कर छत पर खाना ले गई।
    एक कौआ आया और खाने पर...
  • डेढ होशियारी! एक पैसेंजर ट्रेन इंदौर से भीलवाडा की तरफ रवाना होनी थी। रात दस बजे सभी डिब्बे खचाखच भर गए. हमारे एडमिन जी भी चढ़ तो गए, पर जब...