•  

    कॉलेज में एक लड़की ने दाखिला लिया तो सारे लड़के-लड़कियों ने उसे चिढ़ाने के लिए बुआ कहना शुरू कर दिया।

    कुछ दिनों तक तो उस बेचारी ने सहन किया।

    अंत में उसने तंग आकर प्रिंसिपल से शिकायत कर दी।

    लड़की की बात सुन कर प्रिंसिपल को बड़ा क्रोध आया तो वह क्लास रूम में पहुंचे और बोले, "जो भी इसे बुआ कहता है वह तुरन्त खड़ा हो जाये।

    एक-एक करके सारी क्लास खड़ी हो गई।

    केवल पप्पू बैठा रहा तो प्रिंसिपल ने बड़ी हैरानी के साथ उस से पूछा, "क्यों पप्पू तुम क्यों बैठे हो?"

    क्या तुम इसे बुआ नहीं कहते?

    पप्पू ने ठंडी सांस भरकर कहा, "सर! मैं इस क्लास का फूफा हूं।"
  • मनोविज्ञान की छात्रा! एक युवक ने बार के अन्दर घुसने पर एक सुन्दर युवती को देखा एक घण्टे की कोशिश के बाद आखिर उसने हिम्मत जुटायी और उसके पास...
  • बिल्ली की जिद! संता के घर एक बिल्ली रहती थी जिससे वह बहुत परेशान था, एक दिन संता उस से तंग आकर उसे जंगल में छोड़ आता है, परन्तु संता के...
  • सेर को सवा सेर! गली से एक भिखारी गुज़र रहा था, एक घर का दरवाज़ा खुला था और अंदर एक बुढ़िया बैठी थी। उसे देख भिखारी बोला, "खाने के लिए रोटी दे दो, अम्मा।...
  • दांत का इलाज! एक बार एक बुढ़िया डॉक्टर के पास गयी और उस से बोली दांत में दर्द है डॉक्टर साहब इसीलिए इसे निकाल दीजिए।
    डॉक्टर...
  • भारत के रायचंद! भारत एक अत्यंत राय बांटू प्रवत्ति का देश है। यहाँ प्राय: चार किस्म के `रायचंद` पाए जाते हैं।
    1. लघु ज्ञानचंद - अकर्मण्य...