•  

    शहर में एक बाबा जी प्रवचन के लिए आये। कुछ महिलाएं भी प्रवचन सुनने आई। साथ-साथ में प्रवचन सुन रही थी और साथ में आपस में बातें।

    बाबा: हम जो भी अच्छे बुरे कर्म इस जन्म में करते हैं उसका फल हमें अगले जन्म में अवश्य मिलता है और आदमी अगले जन्म में उसी के अनुसार योनी को प्राप्त करता है।

    एक महिला: बाबा जी यह बतायें कि क्या अच्छे कर्म करने से मनुष्य पुन:उसी योनी को प्राप्त करता है?

    बाबा: अवश्य, वही योनी को प्राप्त करता है।

    महिला (दूसरी महिला से): चल बहन हम तो अपने घर ही चलें, जब हम को अगले जन्म में भी गांड़ ही मरवानी है तो प्रवचन सुनने से क्या घंटा फायदा होगा।
  • इतने कम नंबर! काम पर से थक हार कर घर आया, सोफे पर बैठ गया। पत्नी ने पानी का गिलास दिया और बच्चे ने मार्कशीट सामने रखी। हिंदी 44, अंग्रेजी 35, गणित 37, आगे कुछ पढ़ने से पहले..... "बेटा ! क्या मार्क है ये ? गधे, शर्म नहीं आती तुझे ? नालायक है तू नालायक...
  • कवित्री की सुहागरात! एक कवित्री की सुहागरात के बाद उसकी सहेली ने जब पूछा कि कैसी रही उसकी सुहागरात तो कवित्री ने अपने अंदाज़ में कुछ यूँ दिया जवाब:...
  • नसबंदी की दास्ताँ! एक गाँव में जिलाधिकारी नसबंदी के महत्व के बारे में भाषण दे रहा था। भाषण के बाद उसने कहा कि अगर कोई सवाल पूछना चाहे तो पूछ सकता है...
  • फंस गया बेचारा! मगनलाल ने एक कॉल सेंटर में काम करने वाली लड़की रूबी से शादी कर ली। सुहागरात को मगनलाल अपना लौड़ा टाइट कर के आया...
  • लंड पे निबन्ध: 1. प्रस्तावना: लंड ये एक ऐसी चीज है जो धरती पर पाए जाने वाले प्रत्येक मर्द के पास पाया जाता है। इसका जन्म मानव शारीर के साथ ही हो जाता...