•  

    एक बार एक पति और पत्नी में लड़ाई हो जाती है, तो पति परेशान हो कर बाजार जाता है और आत्महत्या करने के इरादे से एक बोतल जहर ले कर आ जाता है।

    घर लौटकर वह अपनी पत्नी से कहता है।

    पति: बहनचोद मैं तेरी रोज की किटकिट से परेशान हो गया हूं और इसीलिए मैं अपनी जान दे रहा हूं, और इतना कहकर वह जहर की बोतल अपने मुंह में उड़ेल लेता है।

    परंतु जहर खाने के बाद उसकी मौत होने के बजाये उसकी तबियत खराब हो जाती तो पत्नी गुस्से से उससे कहती है।

    पत्नी: गांडू के बीज तू ज़िन्दगी में कोई काम ढंग से नहीं कर सकता, तुझसे सौ बार कहा है कि चीजें देखकर खरीदा कर पैसे भी गए और जिस काम के लिए जहर लाया था वो भी नहीं हुआ।
  • खुद का जुगाड़! एक बार एक मरीज़ बड़ी दुखी सी हालत में डॉक्टर के पास आया।

    मरीज: डॉक्टर साहब, मेरा खड़ा नहीं होता...
  • लुकाछिपी बंद! पप्पू जब संता के साथ पिकनिक मना कर वापिस आया तो जीतो ने उसे पूछा: आज तो तुम्हें बहुत मज़ा आया होगा अपने पापा के साथ पिकनिक मना कर...
  • देश की राजनीति! बेटा: पापा पॉलिटिक्स क्या है?
    बाप: तेरी माँ घर चलाती है उसे सरकार मान लो, मैं कमाता हूँ मुझे कर्मचारी मान लो, कामवाली काम करती है उसे मजदूर मान...
  • मस्ती वाली शायरी! अर्ज़ किया है दोस्तों...
    चूची तेरी नर्म-नर्म और निप्पल पे आई जवानी,
    गदराये से चूतड़ तेरे...
  • पलंग की लंबाई! शादी के 6 महीने बाद एक लड़की अपने मायके गयी तो अपनी माँ से शिकायतें करने लगी।
    लड़की: माँ जो पलंग तुमने मुझे दहेज़ में...