•  

    एक लड़की की शादी हुई और उसकी सहेली को उसकी सुहागरात के बारे में जानने की बड़ी ही उत्सुकता थी।

    सहेली: बता ना कल रात को क्या हुआ?

    लड़की: कुछ नहीं।

    सहेली: पर कल तो तेरी सुहागरात थी, कुछ तो हुआ होगा?

    लड़की: कह रही हूँ ना कुछ नहीं हुआ।

    सहेली: अच्छा तो मुझे कल रात की सारी घटना बता।

    लड़की: रात को दस बजे मेरे पति कमरे में आये।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: उन्होंने अपना कोट उतारा और खूँटी पर टांग दिया।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर उन्होंने अपनी टाई उतारी और खूँटी पर टांग दी।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर उन्होंने अपनी शर्ट उतारी और खूँटी पर टांग दी।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर उन्होंने अपनी बनियान उतारी और और खूँटी पर टांग दी।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर उन्होंने अपनी बेल्ट उतारी और खूँटी पर टांग दी।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर उन्होंने अपनी पैंट भी उतार कर खूँटी पर टांग दी।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर उन्होंने मेरी साड़ी उतारी और खूँटी पर टांग दी।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर मेरा ब्लाउज उतारा और खूँटी पर टांग दिया।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर उन्होंने मेरा पेटीकोट भी उतारा और खूँटी पर टांग दिया।

    सहेली: फिर क्या हुआ?

    लड़की: फिर उन्होंने मेरी ब्रा भी उतार कर खूँटी पर टांग दी।

    सहेली: फिर तो जरूर कुछ मजेदार हुआ होगा?

    लड़की: हाँ हुआ था ना बहुत मजा आया।

    सहेली: क्या हुआ था?

    लड़की: इतने सारे कपड़े लादने की वजह से खूँटी टूट गई और वो सारी रात खूँटी ही ठोकते रह गए।
  • चूतियों के लक्षण! चूतिये = फ्री में बैलेंस, मोबाइल, pendrive, T-shirt, झुनझुना आदि के लिए मैसेज भेजते रहते हैं, जो इन्हें कभी नहीं मिलते...
  • पैसों का सवाल! संता व्यापार के लिए विदेश गया था, वहाँ भाग्य से उसकी होटल के एक बार में एक सुंदर युवती से जान-पहचान हो गई जो...
  • आज की नारी! एक बार एक पति और पत्नी में लड़ाई हो जाती है, तो पति परेशान हो कर बाजार जाता है और आत्महत्या करने के इरादे से एक बोतल जहर ले कर आ जाता है...
  • बुरा मान गयी! हम ने जुर्रत जो दिखाई तो बुरा मान गयी;
    हद हर एक मिटाई तो बुरा मान गयी;
    खुद ही कहती थी कोई तालुक ना रखो;
    कोई दूसरी फंसाई...
  • खुद का जुगाड़! एक बार एक मरीज़ बड़ी दुखी सी हालत में डॉक्टर के पास आया।

    मरीज: डॉक्टर साहब, मेरा खड़ा नहीं होता...