•  

    एक प्रसिद्द हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर की मृत्यु हो गयी और सभी सम्बन्धी व मित्र उसकी अंतिम क्रिया के लिए समय से पहुँच गये!

    नियमित रूप से एक ताबूत लाया गया जिसके सामने एक बहुत बड़ा हृदय (दिल) बनाया गया था!

    जब पादरी ने धर्मोपदेश समाप्त किये तो सभी ने अपने-अपने तरीकों से उसे अलविदा कहा!

    सामने से हृदय वाला हिस्सा खोला गया और ताबूत धीरे-धीरे नीचे की और जाने लगा और जब ताबूत बिल्कुल नीचे पहुँच गया तो हृदय वाला हिस्सा फिर से बंद हो गया!

    जैसे ही हृदय वाला हिस्सा बंद हुआ एक शोक सभा में आया आदमी जोर से हँसने लगा!

    उसके साथ खड़े आदमी ने उससे पूछा अरे भाई किसलिए हंस रहे हो?

    उस आदमी ने कहा मैं अपने अंतिम संस्कार के बारे में सोचकर हँस रहा हूँ!

    पहले वाले आदमी ने पूछा उसमें हँसने वाली क्या बात है?

    उस आदमी ने कहा मैं एक स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर हूँ!
  • मशवरा! दोपहर के भोजन अवकाश के समय दो आदमी आपस में बातें कर रहे थे!
    यार मेरी बीवी ने...
  • शादी का खेल! हेमा मालिनी ने शादी शुदा व्यक्ति से शादी की
    श्री देवी ने शादी शुदा व्यक्ति से शादी की
    रवीना टंडन ने...
  • मोहब्बत का राज़! एक लड़की जब रोज़ अपने कॉलेज से वापस आती तो एक लड़के को रोज़ अपने घर के बाहर खडा हुआ देखती।
    ऐसा रोज़ होता था, और एक साल बीत गया...
  • लश्कर-ए-तैयबा की मेम्बरशिप! एक पंजाबी ने गलती से दूसरे के मोबाइल नंबर पर बैलेंस डलवा दिया,
    जब गलती का एहसास हुआ तो पंजाबी ने उसे सैकड़ो फोन कॉल कर डाली पर उधर से किसी ने फोन नहीं उठाया...
  • गुटर-गुं एक बार एक आदमी अपनी प्रेमिका के साथ पार्क में बाहों में बाहें डाल कर बैठा हुआ था और कुछ बड़ी ही रूमानी बातें कर रहा था कि...