•  

    एक आदमी की बहन मरी और फ़िर भाई मरा लेकिन वो बिलकुल भी नहीं रोया।

    जब उसकी बीवी मरी तो वो फ़ूट-फ़ूट कर रोने लगा। लोगों को इस बात से बङी हैरत हुई।

    अजीब आदमी है, माँ, बाप, भाई, बहन किसी के मरने पर एक आँसू तक नहीं निकला। अब जब बीवी मरी है तो कैसे बिलख-बिलख कर रो रहा है।

    तब उस आदमी ने कहा, "मुझे गलत मत समझो भाईयो, जब बाप मरा तो बाप की उम्र वाले लोगों ने मुझे यह कहा कि चिंता न करो, हम तुम्हारे बाप के समान हैं।

    माँ के मरने पर भी उस उम्र की औरतों ने ऐसा ही कहा। भाई के मरने पर और बहन के मरने पर भी ऐसा ही सबने बोला पर अब बीवी के मरने पर किसी एक भी औरत ने यह नहीं कहा 'चिंता न करो, मैं तुम्हारी बीवी के समान हूँ'।
  • हमेशा बोलना ज़रूरी नहीं! कार वाले को ट्रैफिक पुलिस ने रोका और पूछा: क्यों, आपने कार के सामने की बत्तियाँ क्यों नहीं जलाई हैं?
    कार वाला: बात यह है कि हवालदार साहब, अभी-अभी गाड़ी एक ट्रक से टकरा गई और दोनों ही बत्तियाँ फूट गई।
    ट्रैफिक पुलिस वाले...
  • ज़िन्दगी के पड़ाव! विभिन्न आयु के छात्रो का सबसे अच्छा सामूहिक उदाहरण:
    पहली से तीसरी कक्षा तक: मुझे तो पूरा पर्चा आता था।
    चौथी से छटी कक्षा तक: यार 8 नंबर वाला...
  • कहानी जुगाड़ की! पिता लड़के से: मैंने तुम्हारी शादी के लिए एक लड़की देखी है।
    लड़का: लेकिन मैं अपनी मर्जी से शादी करूँगा।
    पिता: लेकिन वो लड़की बिल गेट्स की लड़की है...
  • बॉस का आदेश! एक बार कुछ लड़कियां शहर से गाँव घूमने आई थी। जब वो वापस लौट रही थी तो रास्ते में जिस बस में वे सफर कर रहीं थी, कुछ डाकुओं ने...
  • आदमी तो आदमी ही हैं! एक व्यक्ति मरकर ऊपर पहुँचा तो स्वर्ग के द्वार पर उसे स्वयं चित्रगुप्त मिले।
    चित्रगुप्त बोले, "तुम एक शर्त पर भीतर आ सकते हो।"
    व्यक्ति: कौन सी शर्त प्रभु?
    चित्रगुप्त: तुम्हें एक शब्द...