•  

    एक दिन संता और बंता दोनों टैक्सी स्टैंड पर बैठे बातें कर रहे थे कि तभी एक विदेशी उनके पास पहुँचा और उनसे अंग्रेजी भाषा में कुछ पूछा। संता - बंता दोनों बेवकूफों की तरह उस विदेशी के चेहरे को देखते रहे।

    विदेशी समझ गया कि दोनों को अंग्रेजी नहीं आती। अब उसने वही प्रश्न उनसे स्पेन की भाषा स्पेनिश में पूछा।

    दोनों फिर बेवकूफों की तरह विदेशी का चेहरा देखते रहे।

    तीसरी बार विदेशी ने वही प्रश्न उनसे रूस की भाषा रशियन में पूछा।

    दोनों का वही हाल रहा।

    चौथी बार विदेशी ने वही प्रश्न उनसे जर्मनी की भाषा जर्मन में पूछा।

    दोनों फिर वैसे ही उसका चेहरा ताकते रहे।

    आखिर तंग आकर विदेशी चला गया। उसके जाने के बाद बंता, संता से बोला, "यार संता, हम लोगों को भी अपनी भाषा के अलावा कोई दूसरी भाषा सीखनी चाहिए। हमारे काम आएगी।"

    संता ने एक जोर का झापड़ बंता को लगाया और बोला, "साले, उसको चार चार आती थी, उसके कोई काम आई?"
  • औरत के कान! एक आदमी ने दुर्घटना में दोनों कान खो दिए, कोई भी प्लास्टिक सर्जन उसका समाधान नहीं कर पाया, उसने किसी से सुना कि स्वीडन में कोई सर्जन है जो इसे ठीक कर सकता है और वो उसके पास गया।
    नए सर्जन ने उस कि जांच की...
  • मां सब जानती है! 5 साल का बच्चा: आई लव यू माँ।
    माँ: आई लव यू टू बेटा।
    16 साल का लड़का: आई लव यू मॉम।
    माँ: सॉरी बेटा, पैसे नहीं हैं!
    25 साल का लड़का...
  • चुनाव स्पेशल! एक आदमी ने विधायक का चुनाव लड़ा! उसे सिर्फ तीन वोट मिले!
    यह पता चलते ही वह सरकार से जेड प्लस की सुरक्षा मागने लगा!
    जिले के डी एम...
  • भरोसा! एक इंजीनियरिंग कॉलेज के सभी शिक्षकों को एक टूर पर ले जाने के लिए एक हवाई जहाज में बैठाया गया! जब सभी शिक्षक बैठ गए तो पायलट ने बड़ी ही ख़ुशी से घोषणा की...
  • कंजूसी की हद! एक दिन एक कंजूस के घर उसके सात आठ दोस्त, जो खुद भी उसके जैसे ही कंजूस थे, मेहमान बनकर आ गए!
    कंजूस की बीवी बोली, "घर मे चीनी नहीं है, चाय कैसे बनाऊँ? जल्दी से जाकर ले आइये!"...