•  

    एक महिला ने एक बहुत उम्दा नसल का कुत्ता खरीदा। पहले ही दिन उसने घर में ड्राइंगरूम में बिछे कालीन पर पॉटी कर दी।

    अगर तुमने दोबारा कालीन पर पॉटी की तो मैं तुझे खिड़की से बाहर फेंक दूंगी।

    कुत्ते ने दोबारा कालीन पर पॉटी कर दी।

    महिला ने उसे खिड़की से बाहर फेंक दिया।

    दस दिन ऐसा ही सिलसिला चला। कुत्ता कालीन पर पॉटी करता था और महिला उसे खिड़की से बाहर फेंक देती थीं।

    ग्यारहवें दिन कुत्ते के व्यवहार में आखिरकार तब्दीली आयी। आख़िरकार वो कुछ सीख गया। उस रोज उसने पॉटी की और खुद खिड़की से बाहर छलांग लगा दी।
  • देहाती की नम्रता! गॉंव का एक आदमी पहली बार अपने गाँव से कहीं बाहर जाने के लिए बस में सवार हुआ।
    कंडक्टर ने ठीक ड्राइवर के पास वाली सीट पर उसे बैठा दिया।
    बस चलते समय वह आदमी बड़े...
  • अच्छी आदत! आज शक्कर छोड़े एक महीना पूरा हुआ!
    प्रतिदिन नाश्ते से पहले पाँच किलोमीटर तेजी से चलना और फिर कम से कम बीस मिनट योग करने का रूटीन हो गया है...
  • पत्नी और कामवाली! अगर आप पत्नी और कामवाली बाई के बीच के वार्तालाप पर गौर करें तो काफी सारे "वन-लाइनर्स" ऐसे होते हैं मानो एक प्रेमिका अपने प्रेमी से बात कर रही हो।
    जैसे कि...
  • धोखेबाज़! दो लड़कियां आपस में बातें कर रहीं थी।
    पहली लड़की: आज के बाद किसी भी लड़के पर विश्वास नहीं करुँगी। सब साले झूठे, धोखेबाज़ और कमीने होते हैं।
    दूसरी लड़की: क्यों क्या हुआ?...
  • दरोगा, जज से बड़ा! भरी अदालत में मुकदमा जीतने के बाद जज साहब ने बुजुर्ग को बधाई देते हुए कहा, "बाबा आप केस जीत गए।"
    बुजुर्ग किसान: राम तनै... इतनी तरक्की दे कि तू "दरोगा" बण जा।
    वकील बोले, "रे ताऊ "जज" तो...