•  

    मेरी प्यारी बेगम,

    सवाल कुछ भी हो, जवाब तुम ही हो।

    रास्ता कोई भी हो, मंजिल तुम ही हो।

    दुःख कितना ही हो, ख़ुशी तुम ही हो।

    अरमान कितना ही हो, आरजू तुम ही हो।

    गुस्सा जितना भी हो, प्यार तुम ही हो।

    ख्वाब कोई भी हो, ताबीर तुम ही हो।

    यानी ऐसा समझो कि सारे फसाद की जड़ तुम हो और सिर्फ तुम ही हो।
  • वक़्त अभी भी बदला नहीं! एक आदमी ने हॉस्टल में रहने वाले पप्पू के कमरे का दरवाज़ा खटखटाया। थोड़ी देर बाद पप्पू ने दरवाजा खोला।
    आदमी: क्या मैं अंदर आ सकता हूं? मैं सन 82 में इसी कॉलेज में पढ़ता था और इसी कमरे में रहता था।
    पप्पू: हां, हां जरूर...
  • गहराई की सच्चाई! एक बार संता और बंता एक कोयले की खदान में नौकरी के लिए इंटरव्यू देने जाते हैं तो मैनेजर पहले बंता को बुलाता है और उसका इंटरव्यू लेता है।
    मैनेजर: क्या तुमने इस से पहले भी कभी खदान में काम किया है?
    बंता: जी हाँ।...
  • बेचारा डाकू! एक बार डाकू ने एक लखपति की पत्नी का अपहरण कर लिया और बदले में एक लाख की फिरौती की मांग रखने के लिए पत्र लिखा।
    सेठ,
    तुम्हारी पत्नी हमारे कब्ज़े में है अगर उसे ज़िंदा देखना चाहते हो...
  • बेटे का भविष्य! बंता ज्योतिषी से, "मुझे कैसे पता चलेगा कि मेरा बेटा भविष्य में क्या बनेगा?"
    ज्योतिषी: आप उसके टेबल पर सिगरेट, बियर, पैसों की एक गड्डी और किताबें रख दो। उनमें जो वो उठाएगा उससे पता चलेगा।...
  • सच्चा प्यार किससे? एक बार पप्पू, गोलू और राजू इस बारे में चर्चा कर रहे होते हैं कि किस देश के आदमी कैसे होते है!
    पहले पप्पू ने जापानी लोगों के बारे में बताया;
    पप्पू: इनकी एक पत्नी और एक गर्लफ्रेंड होती है...