•  

    जब भगवान सारी सब्जियों को उनके गुण और सुगंध बांट रहे थे तब प्याज चुपचाप उदास होकर पीछे खड़ी हो गई। सब चले गए प्याज नहीं गई। वहीँ खड़ी रही। तब विष्णुजी ने पूछा, "क्या हुआ तुम क्यों नही जाती?"

    तब प्याज रोते हुए बोली, "आपने सबको सुगंध और सुंदरता जैसे गुण दिए पर मुझे बदबू दी। जो मुझे खाएगा उसका मुँह बदबू देगा। मेरे साथ ही यह व्यवहार क्यों?"

    तब भगवान को प्याज पर दया आ गई। उन्होने कहा, "मैं तुम्हे अपने शुभ चिन्ह देता हूँ। यदि तुम्हें खड़ा काटा जायेगा तो तुम्हारा रूप शंखाकार होगा और यदि आड़ा काटा गया तो चक्र का रूप होगा। यही नहीं सारी सब्जियों को तुम्हारा साथ लेना होगा, तभी वे स्वादिष्ट लगेंगी और अंत में तुम्हे काटने पर लोगों के वैसे ही आंसू निकलेंगे जैसे आज तुम्हारे निकले हैं। जब जब धरती पर मंहगाई बढ़ेगी तुम सबको रुलाओगी।

    दोस्तों इसीलिए प्याज आज इतना रुला रही है उसे वरदान जो प्राप्त है।

    परम ज्ञानी गुरु बाबा बकवास नंद के प्रवचनों से साभार!
  • ज़िन्दगी के पड़ाव! विभिन्न आयु के छात्रो का सबसे अच्छा सामूहिक उदाहरण:
    पहली से तीसरी कक्षा तक: मुझे तो पूरा पर्चा आता था।
    चौथी से छटी कक्षा तक: यार 8...
  • थप्पड़ की कहानी! एक बस के पुरुष यात्री पर एक महिला यात्री को थप्पड़ मारने का मुकदमा चल रहा था!
    जज: तुमने इसे थप्पड़ क्यों मारा?
    यात्री: यह महिला मेरे बगल में बैठी थी! कंडक्टर टिकट के लिये आया तो उसनें बड़ा पर्स खोला...
  • शादी क्या है? 1. शादी एक खुली जेल है जिसके बंधन में आजीवन रहना होता है।
    2. शादी एक ऐसी साझेदारी है जिसमें पूँजी पति लगाता है, लाभ पत्नी पाती है।
    3. शादी एक ऐसी कहानी है जो झील के किनारे से शुरू होकर...
  • पति का पत्नी प्रेम! मेरी प्यारी बेगम,
    सवाल कुछ भी हो, जवाब तुम ही हो।
    रास्ता कोई भी हो, मंजिल तुम ही हो।
    दुःख कितना ही हो...
  • Whatsapp और आप! आप इसमें से कौन से वर्ग में आते है?
    1. Whatsapp मुर्गा!
    रोज सुबह, "गुड मॉर्निंग" के मैसेज देना और लोगो को `गुड मॉर्निंग` बोल कर जगाना इनका प्रिय काम है।
    2. Whatsapp बाबा!
    ये सिर्फ भगवान के ही मैसेज भेजते हैं...