•  

    औरत सच में ही प्रकृति की पेचीदा रचना है:

    अगर आप उसे किस्स करते हैं, तो आप सज्जन आदमी नहीं अगर नहीं करते तो आप आदमी ही नहीं!!

    अगर आप उसकी तारीफ़ करो तो उसे लगता है कि आप झूठ बोल रहे हो अगर नहीं करो तो आपको कुछ नहीं आता, आप किसी काम के नहीं!!

    अगर आप उसकी सारी बातें मानते है तो आप डरपोक अगर नहीं मानते तो तालमेल ही नहीं बिठा पाते!!

    अगर आप उससे रोज मिलते हो तो आप बोर करते है अगर आप नहीं मिलते तो आप पर आरोप लगाया जाता है कि आप डबल क्रॉस कर रहे है!!

    अगर आप अच्छे कपड़े पहनते हो तो आप प्लेबॉय है अगर नहीं पहनते तो आप आलसी और सुस्त!!

    अगर आप एक भी मिनट लेट हो जाओ तो वो शिकायत करती है कि इन्तजार करना कितना मुश्किल होता है अगर वो लेट हो जाए तो कहती है ये लड़कियों का तरीका है! !

    अगर आप उसे कभी कभी किस्स करते हैं तो आप रूखें हैं अगर आप रोज किस्स करने कि कोशिश करते हैं तो आप गलत फायदा उठा रहे हो!!

    अगर आप बोलते हैं तो वो चाहती है कि आप सुने अगर आप सुन रहे हो तो वो चाहती है कि आप बोले!!

    संक्षेप में: दिखने में जितनी सीधी सादी, उतनी ही जटिल जितनी कमजोर उससे कहीं ज्यादा शक्तिशाली!!

    जितनी पेचीदा उतनी ही मनभावन, ये नारी सच में अद्भुत है!
  • भगवान भरोसे! एक लड़की अपने होने वाले मंगेतर को अपने मम्मी पापा से मिलाने के लिए घर लेकर आयी, खाना खाने के बाद लड़की की माँ ने अपने पति से कहा,"कुछ लड़के के बारे में पता करो।"...
  • राजनीती का सबक़! नेता का बेटा अपने पिता से बोला, "पापा मुझे भी राजनीति में आना हैं, मुझे कुछ टिप्स दो।"
    नेता: बेटा, राजनीति के तीन कठोर नियम होते हैं। चलो सबसे पहले मैं तुम्हें पहला और सबसे अहम नियम समझाता हूँ। यह कहकर नेता जी ने...
  • बीवी की परिभाषा दोस्तों आज हम एक अजीब प्राणी के बारे में पढेंगे, इस जीव का नाम है `बीवी`।
    यह अक्सर रसोई और टीवी के सामने पाई जाती है।
    इनका पौष्टिक आहार है पति का भेजा।...
  • सच्चा दोस्त कौन? रसोई में गैस पर कूकर चढ़ाया... सेल्फी वाली पोस्ट डाली और लिखा,
    "बीवी मायके गयी है और मुझे चाय बनानी है, कुकर में कितनी सीटी लगाऊँ?"
    दोस्तों के कमेंट्स आये:...
  • उम्र का चक्र! एक औरत और उसका बेटा बस स्टॉप पर खड़े बस का इंतज़ार कर रहे थे तो औरत अपने बेटे से बोली," बेटा अगर बस में कंडक्टर तुमसे तुम्हारी उम्र पूछे तो कहना कि तुम पांच...