•  

    एक बार एक शिकारी अपने नौकर के साथ शिकार पर गया। वहाँ उन्होंने पानी में एक जंगली बगुला देखा।

    नौकर एक दम से चिल्लाया, "मारिये साहब, वो एक टाँग वाला बगुला है, उड़ नहीं पायेगा।"

    शिकारी ने मुस्कुराते हुए हुश किया और बगुले ने अपनी दूसरी टाँग निकाली और उड़ने लगा। शिकारी ने तुरंत उसे गोली मार दी।

    जब नौकर ने शाम को बगुले को पकाया तो उसका मन हुआ कि उसका स्वाद चख लिया जाये। उसे इतना स्वादिष्ट लगा कि वो पूरी टाँग खा गया।

    खाने के वक़्त शिकारी ने देखा कि बगुले की एक टाँग गायब है। लेकिन खाने के समय मूड ना बिगड़े इसलिए शिकारी ने चुप-चाप खाना खा लिया। खाना खत्म करने के बाद शिकारी ने अपने नौकर से पूछा कि तुमने जो बगुला पकाया था, उसकी एक टाँग गायब थी।

    नौकर ने झट से उत्तर दिया, "नहीं साहब, अगर आप सुबह की तरह हुश करते तो वो अपनी दूसरी टाँग भी निकाल लेता!"
  • छुट्टी नहीं मिल सकती! एक दिन बंता अपने बॉस से मिलने उसके ऑफिस में गया!
    बंता: सर मैं अन्दर आ सकता हूँ!
    बॉस: अरे बंता, आओ... आओ!
    बंता: सर कल हमने अपने घर...
  • भगवान् भरोसे! एक लड़की अपने होने वाले मंगेतर को अपने मम्मी पापा से मिलाने के लिए घर लेकर आयी, खाना खाने के बाद लड़की की माँ ने अपने पति से कहा,"कुछ लड़के के बारे में पता करो।"
    लड़की के पिता ने लड़के को अकेले में बुलाया और...
  • वकील के लिए जगह नहीं! एक वकील मरने के बाद स्वर्ग चला गया जैसे ही स्वर्ग के दरवाजे पर पहुँचा वहां यमदूत बैठा हुआ था यमदूत ने कहा कि वकील साहब कहाँ चले हो यहाँ तो आपके लिए कोई जगह नहीं है!
    वकील ने थोड़ा नाराज होते हुए कहा कि...
  • घोड़े की दवा! एक बार संता के घोड़े को कब्ज़ हो जाती है तो वह जानवरों के डॉक्टर के पास जाता है और उस से कहता है," डॉक्टर साहब मेरे घोड़े को बहुत ही बुरी...
  • पी रहे हैं...जी रहे हैं! एक समय की बात है, करंटपुरा नामक कस्बे में दो दोस्त रहा करते थे। पहला जबर्दस्त पियक्कड़ और दूसरा भला इंसान। दूसरा हमेशा पहले को समझाता रहता था।...