•  

    दो मित्र आपस में बातें कर रहे थे।

    एक काफी उत्तेजित था और कह रहा था, "अब मैं अपनी पत्नी को तलाक दे ही दूंगा।"

    दूसरा मित्र: क्या बात हो गई?

    पहला मित्र: उसने मुझे बेवकूफ कहा है।

    दूसरा मित्र: तो तुमने कोई बेवकूफी की होगी?

    पहला मित्र: नहीं यार!

    दूसरा मित्र: फिर?

    दूसरा मित्र: कल रात जब मैं घर पहुंचा तो मैंने उसे किसी दूसरे आदमी की बाहों में देखा। जब मैंने उससे इसका मतलब पूछा तो उसने बिगड़कर कहा, "बेवकूफ कहीं के! तुम्हें तो इसका मतलब भी नहीं पता।"
  • हिंदी मुहावरे ज्ञान बढाइये कुछ प्रसिद्ध मुहावरों का सही प्रयोग के लिये विस्तार में विवरण
    देवर को नहीं देगी पड़ोसी से फड़वा लेगी - मतलब किसी अपने का भला नहीं सोचने वाला जो किसी वस्तु को व्यर्थ बर्बाद कर देगा पर किसी अपने को नहीं देगा...
  • चूतियों की किस्म! चूतिये चार तरह के होते हैं...
    1) नस्लन: ये चूतिये केवल इसलिये चूतिये होते हैं, क्योंकि इनके बाप भी अपने समय के बहुत बड़े चूतिया थे।
    2) मसलन: ये वो होते हैं, जिनकी मिसालें दी जाती हैं।...
  • एक पागल! एक पागल रोज कहता था - गुलेल बनाउंगा, कबूतर मारूंगा तो उसका इलाज शुरू किया गया!
    6 महीने के इलाज के बाद -
    डाक्टर: अब क्या करोगे?
    पागल: शादी करूंगा...
  • पांच सौ रूपए दूंगा! एक बार बंता संता के घर गया, उसने डोरबेल बजाई, संता की पत्नी ने दरवाजा खोला तो बंता ने पूछा जी, क्या संता जी घर पर है? ...
  • भूत या... लेक्चर के बीच में प्रोफेसर ने पूछा- कितने छात्र भूत में यकीन करते हैं?
    करीब 50 छात्रों के हाथ खड़े हो गये।
    प्रोफेसर - बहुत अच्छे, अब यह बताओ कि...