• मेड इन इंडिया!

    एक जापानी पर्यटक भारत की सैर पर आया हुआ था। आखिरी दिन उसने एयरपोर्ट जाने के लिए एक टैक्सी ली और ड्राइवर को चलने के लिए कहा।

    यात्रा के दौरान एक 'होण्डा' बगल से गुज़री। जापानी ने उत्तेजित होकर खिड़की से सिर निकाला और चिल्लाया‚ `होण्डा‚ वेरी फास्ट! मेड इन जापान!`

    कुछ देर बाद एक 'टोयोटा' तेज़ी से टैक्सी के पास से गुज़री‚ और फिर जापानी बाहर झुका और चिल्लाया‚ `टोयोटा‚ वेरी फास्ट! मेड इन जापान!`

    और फिर एक 'मित्सुबिशी' टैक्सी की बगल से गुज़री। तीसरी बार जापानी खिड़की की ओर झुकते हुए चिल्लाया‚ `मित्सुबिशी‚ वेरी फास्ट! मेड इन जापान!`

    ड्राइवर थोड़ा ग़ुस्से में आ गया मगर चुप रहा और कई सारी कारें गुज़रती रहीं।

    आखिरकार टैक्सी एयरपोर्ट तक पहुँच गयी। किराया 800 रु. बना। जापानी चीखा‚ `क्या? इतना ज़्यादा!`

    तो ड्राइवर चिल्लाया, `मीटर‚ वेरी फास्ट! मेड इन इंडिया।`
  • मोबाइल और लड़की!

    मोबाईल बना हैँ हर लड़की की शान,
    मिस कॉल करके लड़कों को करती हैँ परेशान;

    SMS मेँ लिखती Miss You मेरी जान,
    तुम्हारी आवाज़ सुनने को तरसे मेरे कान;

    4-5 Boyfriend बना कर कहती हैँ एक,
    तुम्हीं तो हो मेरी जान;

    अपने राज सहेलियोँ को बताकर करती हैँ हैरान,
    कहती हैँ लड़को को उल्लू बनाना है आसान;

    होश मेँ आओ मेरे भाई लो इनको पहचान,
    मत पड़ो इनके चक्कर मेँ लड़कियाँ होती हैं शैतान;

    लड़को के जनहित मेँ जारी, लड़कियाँ हैँ बड़ी अत्याचारी!
  • आदमी और औरत की खोजें और अविष्कार!

    आदमी ने रंग की खोज की, और चित्रकला का अविष्कार किया महिला ने रंग की खोज की, और मेक-अप का अविष्कार किया।

    आदमी ने शब्द की खोज की, और भाषा का अविष्कार किया औरत ने भाषा का खोज की, और गप्पों का अविष्कार किया।

    आदमी ने जुए की खोज की, और कार्डस का अविष्कार किया औरतों ने कार्डस की खोज की, और टोने, टोटके और चुगलियों का अविष्कार किया।

    आदमी ने खेती बाड़ी की खोज की, और भोजन का अविष्कार किया औरतों ने भोजन की खोज की, और डायटिंग का अविष्कार किया।

    आदमी ने दोस्ती की खोज की, और प्यार का अविष्कार किया औरत ने प्यार की खोज की, और विवाह का अविष्कार किया।

    आदमी ने व्यापार की खोज की, और पैसों का अविष्कार किया औरत ने पैसों की खोज की, और खरीददारी का अविष्कार किया।

    वैसे तो आदमी ने बहुत सारी चीजों की खोज कर ली. .. जबकि औरत अभी भी खरीददारी में ही फंसी हुई है।
  • लालू से चीटिंग!

    एक बार इंद्रदेव ने पृथ्वीलोक के तीन नेताओ को सही उत्तर बताने पर स्वर्ग जाने का न्योता भेजा। जिसमें तीन नेता चुने गए।
    1. सोनिया गाँधी
    2. नरेन्द्र मोदी
    3. लालू प्रसाद यादव

    इंद्रदेव का पहला सवाल - सोनिया से- RAT की स्पेलिंग बताओ।
    सोनिया: R. A. T

    मोदी से- CAT की स्पेलिंग।
    मोदी: C. A. T

    लालू जी से - चकोस्लोवाकिया की स्पेलिंग।
    लालू: धत बुर्बक इ सबसे चुहा, बिल्ली। आ हमरा से चकोस्लोवाकिया। ई सब नए होगा फेर से पुछिये।

    तब इंद्र देव बोले ठीक है अगला सवाल।
    सोनिया से- यह एक लडका है का अंग्रेजी बताओ।
    सोनिया: This is a boy.

    मोदी से- वह एक लडकी है का अंग्रेजी बनाओ।
    मोदी: That is a girl.

    लालू से- हरा पेड़ चर्रर्रर्र से गिर गया का अंग्रेजी बनाओ।
    लालू: ई का उ सबसे लड़का लड़की आ हमरा से चर्रर्र पर्रर्र। फेर से फेर से नै नै फेर से, फेर से होगा।

    तब इंद्रदेव बोले लालू जी आप तो बच्चो की तरह जिद कर रहे हैं। ये आखिरी मौका दे रहा हूँ बस।
    सोनिया से- जलियावाला बाग हत्याकांड कब हुआ था?
    सोनिया: 1919 ई.मे।

    ठीक है स्वर्ग मे जाओ।

    मोदी से- उस हत्याकांड मे कितने लोग मरे थे?
    मोदी: यही कोई दस हजार लोग।

    ठीक है स्वर्ग मे जाओ।

    लालू से- उन दस हजार के नाम बताओ।

    लालू - अरे साफ़ साफ़ बोलिए न जी की हमको नरक भेजने का प्रोगराम फिट करके बैठल है। बोलिए नरक किधर है?