• गोलमाल!

    एक व्यक्ति बढ़िया सा कपड़ा खरीदा और सूट सिलवाने के लिेए एक दर्जी के पास गया। दर्जी ने कपड़ा लेकर नापा और कुछ सोचते हुए कहा, "कपड़ा कम है। इसका एक सूट नहीं बन सकता।"

    वह दूसरे दर्जी के पास चला गया। उसने नाप लेने के बाद कहा, "आप दस दिन बाद सूट ले जाइए।"

    वह निश्चित समय पर दर्जी के पास गया। सूट तैयार था। अभी सिलाई के पैसे दे रहा था कि दुकान में दर्जी का पांच साल का लड़का प्रविष्ट हुआ। उस व्यक्ति ने देखा कि लड़के ने बिल्कुल उसी कपड़े का सूट पहन रखा है। थोड़ी सी बहस के बाद दर्जी ने बात स्वीकार कर लिया।

    वह व्यक्ति पहले दर्जी के पास गया और फुंकारते हुए कहा, "तुम तो कहते थे कि कपड़ा कम है, पर तुम्हारे साथ वाले दर्जी ने उसी कपड़े से न केवल मेरा, बल्कि अपने लड़के का भी सूट बना लिया।"

    दर्जी धीरज से उल्टा रहा, फिर कुछ सोचते हुए बोला, लड़के की उम्र क्या है?

    आदमी: "पाँच वर्ष।"

    दर्जी चहककर बोला, "मैं अब जान सका कारण क्या है? श्रीमान मेरे लड़के की उम्र 18 वर्ष है।"
  • दरियादिली!

    गाँव से एक मुसाफिर गुज़र रहा था उसने एक बच्चे को खेलते देखा और बोला, "बेटा क्या आप मुझे थोड़ा सा पानी पिला देंगे?"

    बच्चा: अगर लस्सी हो जाये तो।

    मुसाफिर: तब तो बहुत ही अच्छा होगा।

    बच्चा भाग कर गया और लस्सी ले आया। मुसाफिर ने 5 लोटे लस्सी पीने के बाद बच्चे से पूछा, "क्या तुम्हारे घर में कोई लस्सी नही पीता?"

    बच्चा: पीते तो सब हैं लेकिन आज लस्सी में चूहा गिर गया था और उसी में मर गया था।

    मुसाफिर ने गुस्से में लोटा ज़मीन पर दे मारा।

    बच्चा रोते हुए बोला, "मम्मी इन्होने लोटा तोड़ दिया। अब हम टॉयलेट क्या लेकर जायेंगे?"
  • एक सत्य!

    लड़का: शुक्र है भगवान् का इस दिन का तो मैं कब से इंतज़ार कर रहा था।

    लड़की: तो मैं जाऊं?

    लड़का: नहीं बिल्कुल नहीं।

    लड़की: क्या तुम मुझ से प्यार करते हो?

    लड़का: हाँ करता था, करता हूँ और करता रहूँगा।

    लड़की: कभी मेरे साथ धोखा करोगे?

    लड़का: नहीं इस से अच्छा तो मैं मर जाऊं।

    लड़की: क्या मुझे प्यार करोगे।

    लड़का: हाँ-हाँ क्यों नहीं।

    लड़की: तुम मुझे मरोगे?

    लड़का: नहीं मैं ऐसा आदमी नहीं।

    लड़की: क्या मैं तुम पर विश्वास कर सकती हूँ?

    लड़का: हां।

    लड़की: ओह प्रिये।

    और शादी के बाद की कहानी जान ने के लिए इसे नीचे से ऊपर पढो।
  • समय का फर्क!

    एक आदमी ने भगवान की बहुत आराधना की तो भगवान उस से प्रसन्न हो गए और उसके समक्ष प्रकट हुए तो वह आदमी भगवान् से बोला,"क्या मै एक सवाल पूछ सकता हूं?"

    भगवान ने कहा, "पूछो"।

    आदमी: "हे भगवान... करोड़ो साल मतलब तुम्हारे लिए कितने है?"

    भगवान: करोड़ो साल मेरे लिए एक सेकंड के बराबर हैं।

    उस आदमी को बहुत आश्चर्य हुआ। फिर उस आदमी ने आगे पूछा, "भगवान, करोड़ो रुपये की तुम्हारे लिए कितनी अहमियत रखते हैं?"

    भगवान ने कहा, "करोड़ो रुपये मेरे लिए सिर्फ एक पैसे के बराबर हैं"।

    आदमी: हे भगवान, तो क्या तुम मुझे एक पैसा दे सकते हो?

    भगवान: जरुर. . .सिर्फ एक सेकंड रुको।