• लग गया चूना!

    एक आदमी एक दस साल के लड़के के साथ नाई की दुकान पर पहुंचा और बोला कि उसे पास ही कहीं जरुरी काम से जाना है। इसलिये वो पहले उसकी कटिंग कर दें। नाई ने उसकी कटिंग कर दी तो उसने बालक को अपने स्थान पर कुर्सी पर बिठाया, उसके सिर पर प्यार से हाथ फ़ेरा और कहा, "आराम से कटिंग कराना, अंकल को तंग न करना।" इतना कहकर वो वहां से चला गया।

    नाई ने लड़के की कटिंग की, उसे कुर्सी से उतारा और कहा, "तू उधर बैठ जा, बेटा, तेरे डैडी अभी आते होंगे।"

    लड़का: वो मेरे डैडी थोड़े ही थे।

    नाई: तो अंकल होंगे, बेटा।

    लड़का: नहीं।

    नाई: तो कौन थे वो?

    लड़के: मुझे क्या पता कौन थे, मैं तो गली में खेल रहा था कि वो आकर बोले कि फ़्री में कटिंग करायेगा? मैंने कहा, "कराऊंगा" और मैं उसके साथ यहां चला आया।
  • अजीब कहानी!

    एक पहाड़ी पर एक ग्रामीण जानवर चरा रहा था। तभी वहाँ एक हेलीकॉप्टर उतरा, उसमें से एक आदमी उतरा। उसने उस ग्रामीण चरवाहे से कहा, "अगर मैं बिना गिने गायों की संख्या बता दूँ तो क्या तुम मुझे एक बछड़ा दे दोगे?"

    ग्रामीण बोला, "हाँ दे दूंगा।"

    उस आदमी ने मोबाइल में Google Map से वहाँ की Location ली और उसे ISRO को भेज कर पूछा कि इस पहाड़ी पर कितने जीवित प्राणी हैं?

    जवाब आया - 35 प्राणी। उस आदमी ने 2 कम करके कहा कि तुम्हारे पास 33 गाय हैं।

    ग्रामीण: जी हाँ ! ये 33 ही हैं।

    वो आदमी बोला, "तो अब एक बछड़ा मुझे दो।"

    ग्रामीण ने दे दिया लेकिन जब आदमी हेलीकॉप्टर में बछड़ा ले जाने लगा तो ग्रामीण बोला, "अगर मैं आपका नाम बता दूँ तो क्या आप मेरा जानवर मुझे वापिस दे देंगे?"

    आदमी: हाँ बताओ?

    ग्रामीण: आप "राहुल गाँधी" हो।

    राहुल गाँधी: लेकिन तुमने कैसे पहचाना?

    ग्रामीण: बहुत ही आसान है। पहली बात आप बिन बुलाये आये हो, दूसरी, जिन्हें आप गायें बता रहे हो, वह भेंड़ हैं और तीसरी बात यह कि जिसे आप ले जा रहे हो वह बछड़ा नहीं कुत्ता है।
  • आज - कल

    कुछ लोग जब रात को अचानक फोन का बैलेंस ख़त्म हो जाता है इतना परेशान हो जाते हैं कि जैसे सुबह तक वो इंसान जिंदा ही नहीं रहेगा जिससे बात करनी थी।

    कुछ लोग जब फ़ोन की बैटरी 1-2% हो तो चार्जर की तरफ ऐसे भागते है जैसे अपने फ़ोन कह रहे हों "तुझे कुछ नहीं होगा भाई, आँखे बंद मत करना मैं हूँ न सब ठीक हो जायेगा।"

    कुछ लोग अपने फोन में ऐसे पैटर्न लॉक लगाते हैं जैसे आई एस आई की सारी गुप्त फाइलें उनके फ़ोन में ही पड़ी हों।

    कुछ लोग जब आपसे बात कर रहे होते हैं तो बार बार अपने फ़ोन को जेब से निकालते हैं, लॉक खोलते हैं और वापस लॉक कर देते हैं। वास्तव में वे कुछ देखते नहीं हैं, बस ये जताते हैं कि वो जाना चाहते हैं।

    और अगर कभी गलती से फ़ोन किसी दूसरे दोस्त के यहाँ छूट जाए तो ऐसा महसूस होता हैं जैसे अपनी भोली-भाली गर्लफ्रेंड को शक्ति कपूर के पास छोड़ आये हों।
  • भगवान भरोसे!

    एक लड़की अपने होने वाले मंगेतर को अपने मम्मी पापा से मिलाने के लिए घर लेकर आयी, खाना खाने के बाद लड़की की माँ ने अपने पति से कहा,"कुछ लड़के के बारे में पता करो।"

    लड़की के पिता ने लड़के को अकेले में बुलाया और उससे बातचीत करने लगे।

    लड़की के पिता ने पूछा, "तो तुम्हारा प्लान क्या है?"

    लड़का: मैं रिसर्च स्कॉलर हूँ!!

    "रिसर्च स्कॉलर बहुत अच्छे तो तुम मेरी बेटी को एक सुन्दर सा घर कैसे दे पाओगे जिसकी उसे आदत है?", लड़की के पिता ने पूछा।

    लड़का: मैं पढ़ाई करूँगा और भगवान हमारी मदद करेंगे।

    लड़की का पिता: और तुम किस तरह उसके लिए सगाई कि अंगूठी खरीदोगे जिसके योग्य वो है?

    "मैं और ज्यादा ध्यान से पढ़ाई करूँगा बाकि भगवान हमारी मदद करेंगे", लड़के ने कहा।

    "और बच्चे उन्हें कैसे पालोगे?", लड़की के पिता ने कहा।

    लड़का:चिंता मत कीजिये सर भगवान कोई न कोई रास्ता निकाल ही लेगा।

    और हर बार जितनी बार लड़की के पिता ने कुछ भी पूछा, तो लड़के ने कहा कि कोई न कोई रास्ता भगवान निकाल ही लेगा।

    बाद में लड़की की माँ ने लड़की के पिता से कहा, " ये सब कैसे होगा जी?"

    लड़की के पिता ने कहा, "पता नहीं, उसके पास न कोई नौकरी है न कोई प्लान पर अच्छी खबर ये है कि वो मुझे भगवान समझ रहा है।"