• बच्चे अब बच्चे नहीं रहे!

    एक माँ अपने 6 साल के बच्चे का फोटो खिंचवाने के लिए फोटो-स्टूडियो लेकर गई।

    फोटोग्राफर बच्चे को पुचकारते हुए बोला, `बेटा, मेरी तरफ देखो... इस कैमरे से अभी कबूतर निकलेगा।"

    बच्चा बोला, `फोकस एडजस्ट कर, जाहिलों जैसी बातें मत कर, पोर्ट्रेट मोड यूज करना, मैक्रो के साथ, ISO 200 के अंदर रखना।"

    High Resolution में फोटो आनी चाहिए... Facebook पे अपलोड करनी है, वरना पैसे नहीं मिलेंगे। साला, 'कबूतर' निकलेगा। तेरे बाप ने कबूतर डाला था कैमरे में?
  • गर्लफ्रेंड बनाने के 5 फायदे:

    1. दोस्तों में आपकी इज़्ज़त बढ़ जाती है।
    यह जीवन का एक कड़वा सच है दोस्तो। आज कल उसी लड़के की हर कोई इज़्ज़त करता है जिसकी गर्लफ्रेंड होती है। बिना गर्लफ्रेंड वालों को कोई नहीं पूछता।

    2. आप अपने दिल का दर्द उस से बाँट सकते हैं।
    अपने दिल का दर्द बाँटने के लिए आपके पास एक सच्चा साथी होता है। (किन्तु सच्चाई तो यह है कि जिसके पास गर्लफ्रेंड होती है उसका ही दिमाग हमेशा खराब रहता है।)

    3. आपकी हर बात मानने वाला कोई आपके पास होता है।
    गर्लफ्रेंड बनाने से आपके पास ऐसा इंसान आ जाता है जो आपकी हर एक बात मानता है। (किन्तु सबसे बड़ा सच तो यह है कि होता इसके बिल्कुल उल्ट है और हमेशा लड़के ही दबते हैं।)

    4. आपके बिगड़ने का खतरा नहीं रहता।
    लड़कों के घर वालों को हमेशा यही चिंता रहती है कि उनका लड़का कहीं बिगड़ न जाये। असल में जब एक बार किसी लड़के की गर्लफ्रेंड बन जाये तो बिगड़ने के लिए और कुछ नहीं रहता।

    5. फेसबुक पर आपके पोस्ट धनाधन पसंद किये जाते हैं।
    जी हाँ, यदि आपके पास गर्लफ्रेंड हो तो आप कुछ भी पोस्ट करें सबसे पहले आपकी गर्लफ्रेंड उसे पसंद करेगी और टिप्पणी करेगी और लड़की को देख कर हर कोई आपकी पोस्ट को पसंद करने आएगा, उस पर टिप्पणी करेगा।
  • पागलों की पहचान!

    एक पागलखाने में एक पत्रकार ने डॉक्टर से प्रश्न किया। "आप कैसे पहचानते हैं कि, कौन मानसिक रोगी है और कौन नहीं?"

    डॉक्टर: हम एक बाथटब पानी से पूरा भर देते हैं और मरीज को एक चम्मच, एक गिलास और एक बाल्टी देकर कहते हैं कि वो बाथटब को खाली करे।

    पत्रकार: अरे वाह, बहुत बढ़िया। यानि जो नार्मल व्यक्ति होता होगा वो बाल्टी का उपयोग करता होगा क्योंकि वो चम्मच और गिलास से बड़ी होती है।

    डॉक्टर: जी नहीं। नार्मल व्यक्ति बाथटब में लगे हुए ड्रेन प्लग को खींच कर टब को खाली करता है। आप 39 नंबर के बैड पर जाइए ताकि हम आप की पूरी जाँच कर सकें।

    अगर आप ने भी बाल्टी ही सोचा था तो कृपया बैड नंबर 40 पर जाइए।
  • बैंक का मनोरंजन!

    रिपोर्टर लाइन में लगे आदमी से: आपको बहुत तकलीफ हो रही है, क्या बैंक की तरफ से सुविधा मिल रही है आपको?

    आदमी: जी बैंक वाले ध्यान रख रहे हैं कि लोग लाइन में बोर न हों, कुछ न कुछ करते रहते हैं। पानी वगैरह पिला देते हैं।

    रिपोर्टर: ये तो अच्छी बात है लेकिन आपके मनोरंजन के लिए क्या कर रहे हैं?

    आदमी: मनोरंजन का तो विशेष ध्यान रख रहे हैं। जैसे परसों राहुल गांधी जी को बुलाया था, कल केजरीवाल आये थे और

    आज देखो मनोरंजन के लिए आप को बुला लिया है।