• बेचारा पति क्या करे ?

    1. सन्डे को पति अगर देर तक सोया रहे तो :-
    बीवी : अब उठ भी जाओ ! तुम्हारे जैसा भी कोई है क्या ? छुट्टी है तो इसका मतलब यह नहीं कि सोते ही रहोगे।

    2. सन्डे को पति अगर जल्दी उठ जाये तो :-
    बीवी: पिछले जन्म में मुर्गे थे क्या ? एक दिन तो चैन से सोने को मिलता है, उसमें भी ठीक 5:30 बजे उठ कर कुकडू-कू करने लगते हो। इतना जल्दी उठकर क्या पहाड़ तोड़ लाओगे ?

    3. सन्डे को पति अगर घर पे ही रहे तो :-
    बीवी: कुछ काम भी कर लिया करो। हफ्ते भर बाट देखते है तुम्हारे सन्डे की, उसे भी तुम केवल नहाने धोने में ही लगा देते हो।

    4. सन्डे को पति अगर घर से देर तक बाहर रहे तो :-
    बीवी : कहाँ थे तुम आज पूरा दिन ? आज सन्डे है, कभी मुँह से भगवान का नाम भी ले लिया करो।

    5. सन्डे को पति अगर पूजा करे तो :-
    बीवी : ये घन्टी बजाते रहने से कुछ नहीं होने वाला। अगर ऐसा होता तो इस दुनिया के रईसों में टाटा या बिल गेट्स का नाम नहीं होता बल्कि किसी पुजारी का नाम होता।

    6. अगर टाटा या बिल गेट्स जैसा बनने के लिए पति दिन रात मेहनत करे तो :-
    बीवी : हर वक़्त काम, काम काम, तुम्हें अपने ऑफिस के ही सात फेरे ले लेने चाहिए थे। हम क्या यहाँ पर बंधुआ मजदूर है जो सारा दिन काम करें और शाम को तुम्हारा इंतज़ार करें ?

    7. पति अगर पत्नी को घुमाने के लिए ले जाए तो :-
    बीवी : हमारे बीच वाले जीजा जी तो दीदी को हर महीने घुमाने ले जाते हैं और वो भी स्विट्ज़रलैंड और दार्जिलिंग जैसी जगहों पर। तुम्हारी तरह "हरिद्वार" नहाने नहीं जाते।

    8. पति अगर अपनी ऐसी तैसी करा कर नैनीताल, मसूरी, गोवा, माउन्ट आबू, ऊटी जैसी जगहों पर घुमाने ले भी जाए तो :-
    बीवी : अपना घर ही सबसे अच्छा, बेकार ही पैसे लुटाते फिरते है। इधर उधर बंजारों की तरह घूमते फिरो। क्या रखा है घूमने में ? इतने पैसे से अगर घर पर ही रहते तो पूरे 2 साल के लिए कपड़े खरीद सकते थे।

    घरवाली की किच-किच न हो तो इन्सान कहाँ से कहाँ पहुँच जाता है... विश्वास न हो तो नरेन्द्र मोदी को ही देख लो !
  • टेक्निकल स्पोर्ट!

    एक महिला ने IT टेक्नीकल सपोर्ट को फोन किया।

    महिला: मुझे 'हस्बैंड' प्रोगाम में मुश्किल हो रही है।

    टेक्नीकल सपोर्ट: कब से है यह दिक्कत?

    महिला: देखिए, पिछले साल मैंने अपने 'बॉयफ्रेंड' को अपडेट कर 'हस्बैंड'' इंस्टॉल किया था। उसके बाद से ही पूरा सिस्टम स्लो हो गया है। खासतौर पर 'फ्लॉवर' और 'ज्वेलरी' एप्लीकेशन ने काम करना बंद कर दिया है। ये एप्स 'बॉयफ्रेंड' में अच्छी चलती थीं। इसके अलावा 'हस्बैंड' ने 'रोमांस' प्रोग्राम भी अनइंस्टॉल कर दिया है। इसकी जगह 'न्यूज' 'मनी' और 'क्रिकेट' जैसे फालतू प्रोग्राम इंस्टॉल हो गए हैं। अब मैं इसे कैसे सुधारूं?

    टेक्नीकल सपोर्ट: जी, 'हस्बैंड' इंस्टॉल करने के बाद ऐसी समस्या होती रहती है। सबसे पहले इस बात का ध्यान रखें कि 'बॉयफ्रेंड' एक एंटरटेनमेंट डेमो पैकेज था, जबकि 'हस्बैंड' ऑपरेटिंग सिस्टम है। इसे सुधारने के लिए 'आंसू' प्रोगाम डाउनलोड करें। इससे 'ज्वेलरी' और 'फ्लॉवर्स' एप्लीकेशन अपने आप इंस्टॉल हो जाएंगी। हालांकि याद रखें 'आंसू' ज्यादा इस्तेमाल करने पर 'हस्बैंड' हमेशा के लिए 'साइलेंस' या 'बियर' मोड़ पर चला जाएगा। साथ ही 'हस्बैंड' के ओरिजनल पैकेज को डिस्टर्ब न करें। ऐसा करने पर नया वायरस 'गर्लफ्रेंड' डाउनलोड हो जाता है। इसके अलावा 'बॉयफ्रेंड' को दोबारा इंस्टॉल करने की कोशिश भी न करें। ऐसा करने पर आपका लाइफ ऑपरेटिंग सिस्टम क्रैश हो जाएगा।

    धन्यवाद!
  • बीवियों के बहाने!

    बीवी गाँव वाली हो या पढ़ी-लिखी, सभी औरतों का दिमाग ऊपर वाला एक ही फैक्टरी में बनाता है। जानिए उनके कुछ बहाने।

    अगर चावल में पानी ज्यादा हुआ तो... चावल नया था।

    रोटीयाँ कड़क हो गयी तो... कमबख्त ने अच्छा आटा पीस कर ही नहीं दिया।

    चाय ज्यादा मीठी हो गयी... शक्कर ही मोटी थी।

    चाय पतली हो गयी तो... दूध में पानी ज्यादा था।

    शादी या किसी पार्टी में जाते समय... कौन सी साड़ी पहनूं? मेरे पास कोई अच्छी साड़ी ही नहीं है।

    घर पर जल्दी आ गए तो... आज जल्दी कैसे आ गए?

    लेट हो गए तो... इतने वक़्त तक कहाँ थे?

    कोई चीज सस्ती मिल जाए तो... तुमको सभी फंसा देते हैं।

    महंगी लायी तो... तुमको किसने कहा था लाने को?

    खाने की तारीफ़ कर दो तो... मैं तो रोज ऐसा ही खाना बनाती हूँ।

    खाने को गलत कहा तो... तुमको तो मेरी कदर ही नहीं।

    कोई काम करो तो... एक काम कभी ढंग से करते नहीं।

    वो न किया तो... तुम्हारे भरोसे रहे तो कोई काम नहीं होने वाला।
  • मुहावरों के आधुनिक अर्थ!

    1. खुद की जान खतरे में डालना = शादी करना

    2. आ बैल मुझे मार = पत्नी से पंगा लेना

    3. दीवार से सिर फोड़ना = पत्नी को कुछ समझाना

    4. चार दिन की चाँदनी वही अँधेरी रात = पत्नी का मायके से वापस आना

    5. आत्महत्या के लिए प्रेरित करना = शादी की राय देना

    6. दुश्मनी निभाना = दोस्तों की शादी करवाना

    7. खुद का स्वार्थ देखना = शादी ना करना

    8. पाप की सजा मिलना = शादी हो जाना

    9. लव मैरिज करना = खुद से युद्ध करने के लिए योद्धा ढूंढना

    10. जिंदगी के मज़े लेना = कुँवारा रहना

    11. ओखली में सिर देना = शादी के लिए हाँ करना

    12. दो पाटों में पिसना = दूसरी शादी करना

    13. खुद को लुटते हुऐ देखना = पत्नी की मांग पूरी करना

    14. शादी के फ़ोटो देखना = गलती पर पश्चाताप करना

    15. शादी के लिए हाँ करना = स्वेच्छा से जेल जाना

    16. शादी = बिना अपराध की सजा

    17. बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना = दूसरों के दुःख से खुश होना

    18. साली आधी घर वाली = वो स्कीम जो दूल्हे को बताई जाती है लेकिन दी नहीं जाती।