• आदमी को कहीं तो सुख मिले!

    तीन आदमी मरने के बाद भगवान के पास पहुंचे।

    पहला आदमी: मैं पुजारी था। मैंने आपकी बड़ी सेवा की है, मुझे स्वर्ग में भेजिए।

    भगवान: चम्मचागिरी करता है, इसे नरक में ले जाओ।

    दूसरा आदमी: मैं डॉक्टर था, मैंने जीवन भर बीमार लोगों की सेवा की है। भगवान: तो कईयों को मारा भी तो है? इसे भी नरक में ले जाओ।

    तीसरा आदमी: मैं एक शादीशुदा आदमी था और...

    भगवान भावुक होकर, "बस कर पगले! रुलाएगा क्या? चल अंदर चल।
  • पत्नी है या बम!

    पत्‍‌नी से मंदिर के बाहर पति बोला, "तुम यहीं रुक जाओ मैं दर्शन कर के आ जाता हूं।"

    पत्‍‌नी: क्यों? मुझे भी दर्शन करना है मैं भी आऊंगी।

    पति: अरे वो तो ठीक है पर मंदिर का भी कोई नियम-कायदा है।

    पत्‍‌नी: अच्छा वो कौन सा कायदा है जो मेरे मंदिर जाने पर पाबंदी लगाता है?

    पति: वो देखो सामने बोर्ड पे साफ-साफ लिखा हुआ है कि विस्फोटक सामग्री को अन्दर ले जाना मना है, तो मैं तुम्हें कैसे ले जाऊं।
  • पति की तलाश!

    एक पार्टी में एक औरत ने वेटर को आवाज़ लगाईं और उससे पूछा, "अरे भईया सुनो वह सुन्दर सी लड़की किधर गई जो शराब बांटती फिर रही थी?"

    वेटर: जी उसका तो पता नहीं पर क्या आपको शराब की तलाश है?

    महिला: नहीं, मुझे अपने पति की तलाश है।
  • गुमशुदगी का इश्तेहार!

    एक आदमी की बीवी लापता हो गई।

    उस आदमी ने अखबार में बीवी की गुमशुदगी का इश्तेहार कुछ इस तरह छपवाया:

    मेरी बीवी पिछले पांच दिनों से लापता है। जो कोई भी उसकी खोज-खबर मेरे पास लाएगा या उसे खोजने की कोशिश करेगा।

    वह अपनी जान से हाथ धो बैठेगा!