• यह इश्क़ नहीं आसान!

    फ़ेसबुक पर लड़के को अचानक एक ख़ूबसूरत लड़की की फ़ोटो दिखायी दी, लड़के ने तुरंत मेसेज किया।

    लड़का: आइ लव यू

    लड़की: कौन हो तुम?

    लड़का: मेरा नाम आशिक़ कुमार है।

    लड़की: अच्छा क्या करते हो?

    लड़का: मैं तुमसे प्यार करता हूँ।

    लड़की: कहाँ रहते हो, पता क्या है तुम्हारा?

    लड़का: मैं आपके दिल में रहता हूँ, मेरा पता है प्यार के बाज़ार के पास, इश्क़ वाली गली, प्रेमपुर, और तुम कहाँ रहती हो, क्या करती हो?

    लड़की: मैं गोरखपूर में योगी आदित्यनाथ के घर के पास रहती हूँ, मेरे भैया बजरंग दल के अध्यक्ष और शिवसेना के महा सचिव हैं। उन्ही के अकाउंट का काम मैं देखती हूँ।

    लड़का: माफ़ करना बहन, मेरी बात का बुरा मत मानना, मैं तो मज़ाक़ कर रहा था।

    और उसके बाद लड़के ने फेसबुक से अकाउंट ही डिलीट कर दिया।
  • पप्पू और उसकी प्रेमकथा!

    पप्पू अपने दोस्त बंटी से अपनी नयी बनी गर्लफ्रेंड की तारीफ़ कर रहा था।

    पप्पू: कसम से इस बार जो गर्लफ्रेंड बनायी है बहुत मस्त है, पहले वाली तीनो से ज्यादा मस्त।

    बंटी: अच्छा वो कैसे?

    पप्पू: देख मेरी पहली वाली गर्लफ्रेंड दिल्ली से थी एक बार उसको जब मैंने टेडी बियर गिफ्ट किया तो वो बोली, " ओ माइ गोड वाऊ सो क्यूट।"

    बंटी: दूसरी वाली?

    पप्पू: वो लुधियाना से थी, जब उसको मैंने टेडीबियर गिफ्ट किया तो वो बोली, " ओ जी रब दी सौ किन्ना सोना टेडी है।

    बंटी: और तीसरी वाली?

    पप्पू: वो लखनऊ से थी जब उसको टेडी दिया तो वो बोली, " या अल्लाह! कितना खूबसूरत तोहफा है।"

    बंटी: और जो अब है?

    पप्पू: वो हरियाणा से है जब मैंने उसको टेडी दिया तो बोलती, "रे बावड़ी पूँछ ! यो के दे दिया भालू शा।
  • सहनशीलता की परीक्षा!

    एक आदमी ने अपनी पत्नी को सुबह 9 बजे से बैंक की लाइन में खड़ा करवा दिया और खुद ऑफिस चला गया।

    शाम को जब वापस आया तो पत्नी से पूछा कि पैसे निकाले या नहीं? तो पत्नी बोली, "धूप में खड़े-खड़े दो बजे बैंक के दरवाजे में घुसी और तीन बजे कैशियर के सामने पहुँची, मुझे खड़ा कर वो चाय पीने चला गया। फिर आधे घण्टे बाद आया और कम्प्यूटर पर बैठ कर बोला, "सॉरी मैडम पैसे नहीं हैं।"

    आपकी कसम मुँह मिर्ची खाये जैसा हो गया, मेरे तो तन-बदन में आग सी लग गई, सारे दिन रोई... परेशान हुई, घर का सारा काम छोड़ कर भूखी-प्यासी इतनी देर खड़ी-खड़ी पाँव तोड़े और आखिर में यह जवाब? पैसे नहीं हैं।"

    पति गुस्सा करता हुआ बोला, "और तुम पागलों जैसी यूँ ही आ गयी? उनका कुछ नहीं कर पायी? मुझ पर तो आज तक 15 बेलन तोड़ चुकी हो, कम से कम एक बेलन उन पर तोड़ आती, उनको भी तो कुछ मालूम पड़ता।"

    पत्नी बहुत ही धीरज से बोली, "बेलन तो आज एक और टूटेगा। पैसा बैंक में नहीं... तुम्हारे खाते में नहीं था।"
  • तकनीकी मदद!

    एक महिला ने IT टेक्नीकल सपोर्ट को फोन किया।

    महिला: मुझे 'हस्बैंड' प्रोगाम में मुश्किल हो रही है।

    टेक्नीकल सपोर्ट: कब से है यह दिक्कत?

    महिला: देखिए, पिछले साल मैंने अपने 'बॉयफ्रेंड' को अपडेट कर 'हस्बैंड'' इंस्टॉल किया था। उसके बाद से ही पूरा सिस्टम स्लो हो गया है। खासतौर पर 'फ्लॉवर' और 'ज्वेलरी' एप्लीकेशन ने काम करना बंद कर दिया है। ये एप्स 'बॉयफ्रेंड' में अच्छी चलती थीं। इसके अलावा 'हस्बैंड' ने 'रोमांस' प्रोग्राम भी अनइंस्टॉल कर दिया है। इसकी जगह 'न्यूज' 'मनी' और 'क्रिकेट' जैसे फालतू प्रोग्राम इंस्टॉल हो गए हैं। अब मैं इसे कैसे सुधारूं?

    टेक्नीकल सपोर्ट: जी, 'हस्बैंड' इंस्टॉल करने के बाद ऐसी समस्या होती रहती है। सबसे पहले इस बात का ध्यान रखें कि 'बॉयफ्रेंड' एक एंटरटेनमेंट डेमो पैकेज था, जबकि 'हस्बैंड' ऑपरेटिंग सिस्टम है। इसे सुधारने के लिए 'आंसू' प्रोगाम डाउनलोड करें। इससे 'ज्वेलरी' और 'फ्लॉवर्स' एप्लीकेशन अपने आप इंस्टॉल हो जाएंगी। हालांकि याद रखें 'आंसू' ज्यादा इस्तेमाल करने पर 'हस्बैंड' हमेशा के लिए 'साइलेंस' या 'बियर' मोड़ पर चला जाएगा। साथ ही 'हस्बैंड' के ओरिजनल पैकेज को डिस्टर्ब न करें। ऐसा करने पर नया वायरस 'गर्लफ्रेंड' डाउनलोड हो जाता है। इसके अलावा 'बॉयफ्रेंड' को दोबारा इंस्टॉल करने की कोशिश भी न करें। ऐसा करने पर आपका लाइफ ऑपरेटिंग सिस्टम क्रैश हो जाएगा।

    धन्यवाद!