Hindi Jokes Page 3

New
Hindi Jokes > Hindi Jokes
Page: 3
पागलपन की हद!

एक पागलखाने में दो पागल थे। एक दिन जब वे दोनों पागलों के लिये बनाये गये नहाने के तालाब के किनारे टहल रहे थे तभी अचानक एक का पैर फिसल गया और वह पानी में जा गिरा।

उसे तैरना नहीं आता था लिहाजा वह डूबने लगा। अपने दोस्त को डूबते देख दूसरे ने फौरन पानी में छलांग लगायी और बड़ी मेहनत करके उसे जिन्दा बाहर निकाल लाया।

जब यह खबर पागलखाने के अधिकारीयों को लगी तो वह आश्चर्य में पड़ गए। उन्होंने सोचा कि अब ये बिलकुल ठीक हो गया है। जिसने भी ये कारनामा सुना उसने यही राय दी कि अब वह ठीक हो गया है। अब वह पागल नहीं है। अधिकारीयों ने उसे पागलखाने से रिहा करने का निश्चय कर लिया।

अगले दिन अधिकारी ने उसको अपने कैबिन में बुलाया और कहा, "तुम्हारे लिए दो खबरें हैं; एक बुरी और एक अच्छी। अच्छी खबर यह कि तुम्हें पागलखाने से छुट्टी दी जा रही है क्योंकि अब तुम्हारी दिमागी हालत बिल्कुल ठीक है। तुमने अपने दोस्त की जान बचाने का जो कारनामा किया है उससे यही साबित होता है और बुरी खबर यह है कि तुम्हारे दोस्त ने ठीक तुम्हारे उसकी जान बचाने के बाद बाथरूम में जाकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह मर चुका है।"

पागल ने जवाब दिया, "उसने खुद अपने आपको नहीं लटकाया। वह तो मैंने ही उसे सूखने के लिये वहां लटकाया था। तालाब में गीला हो गया था न।"

रेल ड्राइवर की समझदारी!

एक रेलगाड़ी चलते चलते अचानक पटरी से उतरकर आजू-बाजू के खेतों में घुस गई और फिर से वापस पटरी पर आ गई।

सारे यात्री डर के मारे सहम गए।

अगले ही स्टेशन पर रेलगाड़ी के चालक को पकड़ लिया गया। जाँच अधिकारी ने चालक से इसका कारन पूछा।

चालक ने बताया कि एक आदमी पटरी पर खड़ा था और मेरे कई बार हार्न बजाने के बावजूद वह पटरी से नहीं हट रहा था।

जाँच अधिकारी ने कहा, "तुम पागल हो क्या ? एक आदमी की जान बचाने के लिए तुमने इतने लोगों की जान खतरे में डाल दी। तुम्हें तो उस आदमी को कुचल देना चाहिए था।"

चालक: वही तो मैं करने जा रहा था लेकिन जैसे ही गाड़ी उसके एक दम नजदीक पहुंची वह कम्बख्त खेतों में इधर उधर भागने लगा।

मरने की चाहत!

बुजुर्ग पति-पत्नी एक साथ गुज़र गए। जब ऊपर पहुँचे तो चित्रगुप्त ने बहीखाता देख कर एक दूत से कहा, "इन्हें स्वर्ग में ले जाओ।"

दूत उन्हें स्वर्ग में ले गया। एक आलीशान बंगले में ले जाकर बोला, "आप दोनों यहां रहेंगे। यहां हर तरह का आराम है। हर तरह की सुविधा उपलब्ध है। नौकर-चाकर हमेशा आपकी सेवा में रहेंगे। और हां, आप जो भी जब भी खाना पीना चाहें, आपको मिलेगा।"

बुजुर्ग ने पूछा, "अगर हम बीमार हो गए तो डॉक्टर कहां मिलेगा?"

दूत ने बताया, "स्वर्ग में कभी कोई बीमार नहीं होता।"

बुजुर्ग लंबी सांस छोड़ते हुए पत्नी से बोला, "अगर हम लोग अपने डॉक्टर की बात न मान कर, फल-सब्जियों की बजाय, अपनी मनमर्जी की चीजें खाते पीते, तो कई साल पहले यहां पहुंच जाते।"

बारिश के लिए निवेदन!

सेवा में,

श्रीमान इंद्र देव महोदय,
अध्यक्ष,
वर्षा विभाग,

विषय: वर्षा सही समय पर उपलब्ध करवाने बाबत।

श्रीमान जी,

उपरोक्त विषयान्तर्गत निवेदन है कि हमारे शहर में तीव्र गर्मी पड़ने से शहर वासी अत्यंत परेशान हो रहे हैं साथ ही यहाँ अन्य प्राणी भी गर्मी से त्राहि त्राहि कर रहे हैं।

अत: आपसे विनम्र निवेदन है कि मौसम को देखते हुए और सूर्यदेव के कोप को शांत करने के लिए उचित मात्रा में बादलों की व्यस्था करके बारिश करवाने की कृपा करें।

धन्यवाद।

भवदीय,
समस्त भारतीय।

Quotes

नैतिकता महज एक रवैया है जो हम ऐसे लोगों के प्रति अपनाते हैं जिन्हें हम व्यक्तिगत रूप से नापसंद करते हैं।

Trivia

The Iglesia Maradoniana (English: Church of Maradona; literally Maradonian Church) is a religion, created by fans of the retired Argentine football player Diego Maradona, who they believe to be the best player of all time.

Graffiti

The old songs are best because nobody sings them any more.