• पति पर निबंध!

    पति एक घरेलू प्राणी है, यह सभी घरों में अनिवार्य रूप से पाया जाता है।

    इस घरेलू प्राणी को पालने का पूरा अधिकार पत्नी नामक ओहदे से सम्मानित महिला को प्राप्त होता है।

    1. इसकी दो आंखे होती है जिससे यह मूक रहकर मात्र देखता है।

    2. इसके दो कान होते है जिससे पत्नी कि डांट फटकार सुनता है।

    3. इसका एक मुख होता है जिसके खुलने पर पूर्णतः पाबंदी होती है।

    4. इसकी इकलौती कटी नाक में अदृश्य नकेल होती है।

    5. यह काफी कुछ मनुष्य से मिलता जुलता प्राणी होता है।

    6. वैसे पति होने से पूर्व यह मनुष्य कि श्रेणी में होता है।

    पति के प्रकार

    जोरू का गुलाम: यह प्रजाति हमारे देश में बहुतायत रूप से पायी जाती है। इस प्रजाति के पति टिकाऊ, मेहनती, सीधे व वफादार होते है। यह उम्दा नस्ल के होते है। डांट, मार, गालियाँ इन पर प्रभावहीन होती है। पालने के लिए यह पति सबसे अच्छे होते है।

    जोरू का बादशाह: यह प्रजाति धीरे धीरे लुप्त होती जा रही है इसलिए सरकार जल्द ही इनके संरक्षण के लिए "बादशाह पति संरक्षण " नामक अभियान चलने जा रही है।
  • ये कैसा धोखा?

    एक डॉक्टर के पास एक बेहाल मरीज़ गया।

    मरीज़: डॉक्टर साहब पेट में बहुत दर्द हो रहा है।

    डॉक्टर: अच्छा, ये बताओ आखिरी बार खाना कब खाया था?

    मरीज़: खाना तो रोज ही खाता हूँ।

    डॉक्टर: अच्छा-अच्छा, (2 ऊँगली उठाते हुए ) आखिरी बार कब गए थे?

    मरीज़: जाता तो रोज ही हूँ पर होता नहीं है।

    डॉकटर समझ गए कि कब्ज़ है। अन्दर बहुत सारी बोतलें पड़ी थी उस में से एक उठा लाये और साथ ही केल्क्युलेटर भी लेते आये।

    फिर पूछा, "घर कितना दूर है तुम्हारा?"

    मरीज़: 1 किलोमीटर।

    डॉक्टर ने केलकुलेटर पे कुछ हिसाब किया और फिर बोतल में से चार चम्मच दवाई निकाल कर एक कटोरी में डाली। डॉक्टर: गाडी से आये हो या चल कर?

    मरीज़: चल कर।

    डॉक्टर: जाते वक्त भाग के जाना।

    डॉक्टर ने फिर से केलकुलेटर पे हिसाब किया फिर थोड़ी दवाई कटोरी में से बाहर निकाल ली।

    डॉक्टर: घर कौन सी मंज़िल पे है?

    मरीज़: तीसरी मंज़िल पे।

    डॉक्टर ने फिर से केलकुलेटर पे हिसाब किया फिर थोड़ी दवाई कटोरी में से और बाहर निकाल ली।

    डॉक्टर: लिफ्ट है या सीढियाँ चढ़ के जाओगे?

    मरीज़: सीढियां।

    डॉक्टर ने फिर से केलकुलेटर पे हिसाब किया फिर थोड़ी दवाई कटोरी में से और बाहर निकाल ली।

    डॉक्टर: अब आखिरी सवाल का जवाब दो।

    घर के मुख्य दरवाजे से टॉयलेट कितना दूर है?

    मरीज़: करीब 20 फुट।

    डॉक्टर ने फिर से केलकुलेटर पे हिसाब किया फिर थोड़ी दवाई कटोरी में से और बाहर निकाल ली।

    डॉ: अब मेरी फीस दे दो मुझे पहले फिर ये दवाई पियो और फटाफट घर चले जाओ, कहीं रुकना नहीं और फिर मुझे फोन करना। मरीज़ ने वैसा ही किया।

    आधे घंटे बाद मरीज़ का फोन आया और एकदम ढीली आवाज में बोला, "डॉक्टर साहब, दवाई तो बहुत अच्छी थी आपकी पर आप अपना केलकुलेटर ठीक करवा लेना। .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    हम 10 फुट से हार गये।
  • शराबी की व्यथा!

    एक बार एक शराबी रात के 12 बजे शराब की दुकान के मालिक को फ़ोन करता है और कहता है, "तेरी दुकान कब खुलेगी?"

    दुकानदार: सुबह 9 बजे।

    शराबी फिर थोड़ी देर बाद दोबारा दुकानदार को फ़ोन करके पूछता है, "तेरी दुकान कब खुलेगी?"

    दुकानदार: कहा ना सुबह 9 बजे।

    कुछ देर बाद शराबी फिर से दुकानदार को फ़ोन कर देता है और पूछता है,"भाई साहब आपकी दुकान कब खुलेगी?"

    दुकानदार: अबे तुझे कितनी बार बताऊँ सुबह 9 बजे खुलेगी इसीलिए सुबह 9 बजे आना और जो भी चाहिए हो ले जाना।

    शराबी: अबे, मैं तेरी दुकान के अन्दर से ही बोल रहा हूँ।
  • एक मैनेजर पति और उसकी पत्नी की कहानी!

    पत्नी - रात का खाना आज बाहर करेगें।

    पति - ठीक है ... हम किसी साधारण रेस्तरां में चलते हैं।

    पत्नी - नहीं, रॉयल पैलेस होटल में चलते हैं।

    पति - (एक मिनट के लिए मौन) ठीक है, 7 बजे चलते हैं।

    ठीक सात बजे पति-पत्नी अपनी कार में घर से निकले। रास्ते में -

    पति - जानती हो एक बार मैंने अपनी बहन के साथ पानीपूरी प्रतिस्पर्धा की थी। मैंने 30 पानी पूरी खाई और उसे हरा दिया।

    पत्नी - क्या यह इतना मुश्किल है?

    पति - मुझे पानी-पूरी प्रतियोगिता में परास्त करना बहुत मुश्किल है।

    पत्नी - मैं आसानी से आपको हरा सकती हूँ।

    पति - रहने दो ये तुम्हारे बस का नहीं।

    पत्नी - हमसे प्रतियोगिता करने चलिये।

    पति - तो आप अपने आप को हारा हुआ देखना चाहती हैं?

    पत्नी - चलिये देखते हैं।

    वे दोनों एक पानी-पूरी स्टॉल पर रुके और खाना शुरू कर दिए ।

    25 पानी पूरी के बाद पति ने खाना छोड़ दिया।

    पत्नी का भी पेट भर गया था, लेकिन उसने पति को हराने के लिए एक और खा लिया और चिल्लाई , `तुम हार गये।`

    बिल 50 रुपये आया। और पत्नी वापस घर आते हुए शर्त जीतने की खुशी में खुश थी।

    कहानी से नैतिक शिक्षा:

    `एक प्रबंधक का मुख्य उद्देश्य न्यूनतम निवेश के साथ कर्मचारी को संतुष्ट करना होता है। कम निवेश पर मजबूत वापसी सुनिश्चित!`