• चोरी ऊपर से सीनाज़ोरी!

    एक बार एक आदमी बड़ी आराम से अपनी गाड़ी में जा रहा था कि अचानक सामने से आ रही एक महिला की गाड़ी आ कर उसकी गाड़ी से टकरा गयी, पर एक्सिडेंट के बाद दोनों सुरक्षित बच गए।

    जब दोनों गाड़ी से बाहर आये तो महिला ने पहले अपनी गाड़ी को देखा जो पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुकी थी, फिर वो सामने की तरफ गयी जहाँ आदमी भी अपनी गाड़ी को बड़ी गौर से देख रहा था।

    तभी वह महिला उससे रूबरू होते हुए बोली, "देखिये कैसा संयोग है कि गाड़ियाँ पूरी तरह से टूट-फूट गयी पर हमें चोट तक नहीं आई। यह सब भगवान की मर्जी से हुआ है ताकि हम दोनों मिल सकें। मुझे लगता है कि अब हमें आपस में दोस्ती कर लेनी चाहिए।"

    आदमी ने भी सोचा कि इतना नुक्सान होने के बाद भी गुस्सा करने के बजाय दोस्ती के लिए कह रही है तो कर लेता हूँ और बोला, "आप बिल्कुल ठीक कह रही हैं कि ये सब भगवान की मर्जी से हुआ है।"

    तभी महिला ने कहा, "एक चमत्कार और देखिये कि पूरी गाड़ी टूट-फूट गयी पर अंदर रखी शराब की बोतल बिल्कुल सही है।"

    आदमी ने कहा, "वाकई यह तो हैरान करने वाली बात है।"

    महिला ने बोतल खोली और बोली, "आज हमारी जान बची है, हमारी दोस्ती हुई है तो क्यों न थोड़ी सी ख़ुशी मनाई जाए।"

    महिला ने बोतल को उस आदमी की तरफ बढ़ाया उसने भी बोतल को पकड़ा और मुहं से लगाया और आधी करके बोतल वापस महिला को दे दी।

    फिर कहने लगा, "आप भी लीजिये।"

    महिला ने बोतल को पकड़ा उसका ढक्कन बंद किया और एक तरफ रख दी।

    आदमी ने पूछा, "क्या आप शराब नहीं पियेंगी?"

    महिला बड़े आराम से बोली, "नहीं ...मुझे लगता है मुझे पुलिस का इंतज़ार करना चाहिए ताकि मैं बता सकूँ कि इस शराबी ने मेरी गाडी ठोक दी है।"
  • जैविक सब्जियों के फायदे!

    एक बार जीतो ने संता को जैविक खाद द्वारा उगाई गयी सब्जियों के ऊपर एक लंबा चौड़ा भाषण दे डाला और कहा की अब से तुम जब भी सब्जी लाओ तो जैविक खाद द्वारा उगाई सब्जी ही लाना।

    अगले दिन संता सब्जी लेने सब्जी मंडी गया और एक दुकान पर जाकर सब्जी वाले से बोला।

    संता: अरे भाई मुझे अपनी पत्नी के लिए सब्जी ले जानी है, तो क्या तुम मुझे बताओगे की इन सब्जियों पर किसी रासायनिक या ज़हरीले पदार्थ का छिडकाव तो नहीं किया हुआ है ना?

    सब्जीवाला: नहीं साहब, यह काम आपको खुद ही करना पडेगा।
  • तलाक का कारण!

    बंता: प्रीतो और मैं तलाक ले रहे है।

    संता हैरान होते हुए, "क्यों क्या हुआ तुम दोनों तो बहुत अच्छे से रहते हो।"

    बंता: जब से हम लोगों ने शादी की है तब से प्रीतो मुझे बदलने की कोशिश में लगी हुई है, सबसे पहले उसने मुझे शराब पीने से रोका, फिर सिगरेट फिर इधर-उधर आवारा घूमने से। उसने मुझे सिखाया कि अच्छे कपड़े कैसे पहनते है, उसने मुझे संगीत और कला के प्रति रूचि आदि सब सिखाये और स्टॉक मार्केट में कैसे निवेश करना है ये सब भी उसी ने सिखाया।

    संता ने कहा, "क्या तुम बस इसलिए नाराज हो कि उसने तुम्हें बदलने के लिए ये सब किया।"

    बंता: अरे मैं नाराज नहीं हूँ मैं अब काफी सुधर चुका हूँ तो अब वो मुझे अपने लायक नहीं लगती।
  • ज्यादा समझदारी भी अच्छी नहीं!

    एक कंपनी का मालिक अपनी एक फैक्टरी में विजिट करने गया।

    वहाँ उसने देखा कि सारे कर्मचारी तो काम कर रहे थे लेकिन एक युवक एक कोने में आराम से खड़ा मोबाइल पर मैसेज पढ़ रहा था और मुस्कुरा रहा था।

    मालिक को यह देखकर और भी हैरत हुई कि उसके आने के बावजूद भी युवक अपने काम पर लगने की बजाये ढीठता पूर्ण तरीके से वैसे ही खड़ा रहा।

    मालिक को गुस्सा आ गया। उसने युवक को बुलाया और पूछा, "तुम्हें हर महीने कितनी तनख्वाह मिलती है?"

    युवक: "6000 रुपये सर!"

    मालिक ने जेब से 18000 रुपये निकाले और युवक को देते हुए बोला, "ये पकड़ो तुम्हारी 3 महीने की एडवांस तनख्वाह और दफा हो जाओ यहाँ से, तुम्हारे जैसे कामचोरों के लिए मेरी कंपनी में कोई जगह नहीं है।"

    युवक ने शांतिपूर्वक रुपये लिए और मुस्कुराता हुआ चला गया।

    अब मालिक ने वहाँ काम कर रहे लोगों से पूछा, "अब कोई मुझे बताएगा कि ये आदमी कौन था और क्या काम करता था?"

    बड़ी मुश्किल से अपनी हँसी दबाते हुए एक कर्मचारी ने बताया, "सर, वो तो पिज्जा डिलीवरी करने वाला लड़का था। दरअसल आज सुपरवाइजर साहब अपना लंच बॉक्स लाना भूल गए थे।"