• गलत नंबर!

    एक बार फ़ोन की घंटी सुन कर जब संता फ़ोन उठाया तो दूसरी ओर से आवाज़ आयी।

    हेल्लो, फ्रिज चल रहा है?

    संता: हां, चल रहा है, आप कौन?

    फोन करने वाला (कॉलर): तो फिर पकड़ लो, वर्ना भाग जायेगा।

    कॉलर ने थोड़ी देर बाद दोबारा फोन किया।

    "हेल्लो फ्रिज है?"

    संता गुस्से से बोला: नहीं है।

    कॉलर: कहा भी था पकड़ लो, भाग जायेगा।
  • झूठ बोलना पाप है!

    एक दिन संता एक रोबोट लेकर आया। वह रोबोट झूठ पकड़ सकता था और झूठ बोलने वाले को गाल पर खींचकर चांटा मार देता था।

    एक दिन पप्पू को स्कूल से घर आने में देर हो गयी तो संता ने उससे पूछा, "घर लौटने में देर क्यों हो गई?"

    पप्पू: आज हमारी एक्स्ट्रा क्लासेस थी।

    रोबोट अचानक अपनी जगह से उछला और पप्पू के गाल पर एक जोरदार चांटा मार दिया।

    संता:ये रोबोट हर झूठ को पकड़ सकता है, अब सच क्या है यह बताओ, कहां गए थे?

    पप्पू ने अपना गाल सहलाते हुए कहा, "फिल्म देखने।"

    संता ने कड़ककर पूछा, "कौन सी फिल्म?"

    पप्पू : जय हनुमान, अभी पप्पू की बात पूरी नहीं हुई थी कि उसके गाल पर रोबोट ने एक जोर का चांटा मारा।

    संता ने फिर पूछा, "कौन सी फिल्म?"

    पप्पू : कातिल जवानी।

    संता गुस्से में बोला, "शर्म आनी चाहिए तुम्हें, जब मैं तुम्हारी उम्र का था तब ऐसी हरकत नहीं किया करता था।"

    इस बार संता के गाल पर रोबोट ने एक चांटा जड़ दिया।

    यह सुनते ही जीतो रसोई से आते हुए बोली, "आखिर तुम्हारा ही तो बेटा है न, झूठ तो बोलेगा ही।"

    अब जीतो की बारी थी, चटाक।
  • मच्छरों का मातम!

    संता ने अपने आलसी नौकर से कहा, यहाँ पर इतने सारे मच्छर गुनगुना रहे हैं तू इन्हें मार गिरा।

    थोड़ी देर बाद संता फिर से बोला।

    संता: अबे साले नौकर के बच्चे मैंने तूझे मच्छर मारने को कहा था, अभी तक तूने मारे नहीं वो अब भी गुन-गुना रहे हैं।

    नौकर: साहब मच्छर तो मैंने मार दिए, यह तो उनकी पत्नियां हैं जो विधवा होकर रो रही हैं।
  • संता का मुर्गी प्रेम!

    एक बार संता की पालतू मुर्गी मर गयी तो संता को उसके मरने का बहुत दुःख हुआ और वह जोर जोर रोने लगा।

    संता की रोने की आवाज सुनकर बंता भी संता के घर पर पहुंचा और संता से पूछा, "भाई साहब क्या हुआ, आप इतना रो क्यों रहे हैं?"

    संता: यार मेरी मुर्गी मर गयी है।

    बंता: मेरा बाप मर गया था मगर मैं तब भी नहीं रोया, और आप मुर्गी के मरने से रो रहे हैं।

    संता: तेरा बाप क्या अंडे देता था?