• संता का आईडिया!

    संता और बंता ठहाके लगाते हुए रात को पैदल घर की तरफ जा रहे थे उनके पास ऑटो में जाने के लिए भी पैसे नहीं थे!

    जब वे दोनों बस स्टॉप के साथ से निकले तो संता के दिमाग में एक शैतानी आईडिया आया उसने बंता से कहा मैं एक बस चुरा कर लाता हूँ और उसमें घर चलते है तुम बस स्टॉप के बाहर खड़े हो जाओ!

    काफी देर तक संता नहीं आया तो बंता परेशान होकर बस स्टैंड के अन्दर चला गया और देखा तो संता एक एक कर सारी बसें देख रहा था तब संता एक बस में चढ़ा!

    बंता ने उसे आवाज देकर कहा अरे क्या कर रहा है?

    संता ने कहा अरे यार मुझे कहीं भी 25b नम्बर की बस नहीं मिल रही है जो हमारे घर जाती है!

    बंता ने कहा तो तुम इस 27 नम्बर की बस में क्यों चढ़ रहे हो ये तो हमें घुमावदार चौक से ले जाकर शहर के बाहर छोड़ेगी और वहां से फिर हमें पैदल घर आना पड़ेगा!
  • नींद नहीं आती!

    एक दिन संता थका हारा डॉक्टर के पास आता है और डॉक्टर से कहता है डॉक्टर साहब मेरे पड़ोस में बहुत सारे कुत्ते है जो रात दिन भौंकते रहते है जिस कारण में एक घड़ी के लिए भी नहीं सो पाता।

    डॉक्टर ने कहा इसमें कोई चिंता की बात नहीं है मैं तुम्हें कुछ नींद की गोलियां दे देता हूँ वे इतनी असरदार है कि तुम्हें पता ही नहीं चलेगा कि तुम्हारे पड़ोस में कोई कुत्ता है भी या नहीं। ये दवाइयाँ तुम ले जाओ और अपनी परेशानी दूर करो।

    कुछ हफ्ते बाद संता वापस डॉक्टर के पास आया और पहले से ज्यादा परेशान लग रहा था और डॉक्टर से कहने लगा डॉक्टर साहब आपकी योजना ठीक नहीं थी अब तो मैं पहले से ज्यादा थक गया हूँ।

    डॉक्टर मैं नहीं जानता कि ये कैसे हो गया पर जो दवाईयां दी थी वे नींद आने की सबसे बढ़िया गोलियां थी चलो फिर भी आज मैं तुम्हें उससे भी ज्यादा असरदार गोलियां देता हूँ।

    संता: क्या ये सचमुच असर करेंगी पर मैं सारी रात कुतों को पकड़ने में लगा रहता हूँ और मुश्किल से अगर एक-आध को पकड़ भी लूँ तो उसके मुहं में गोली डालना बहुत मुश्किल हो जाता है।
  • लॉटरी जितवा दो!

    संता बहुत बड़ी मुसीबत में था उसका सारा बिजनेस ठप्प पड़ गया, और वह बहुत बड़े आर्थिक संकट में फंस गया वह बहुत निराश हुआ और आखिर में भगवान से मदद के लिए गुहार करने लगा!

    वह मंदिर में गया और भगवान से प्रार्थना करने लगा, हे भगवान मेरी मदद करो! मेरा सारा बिजनेस ठप्प पड़ गया और मेरे पास एक भी पैसा नहीं बचा है, अब तो हालात ये है कि मुझे अपना घर भी बेचना पड़ सकता है, इसलिए हे भगवान, मुझे कोई लॉटरी जितवा दो!

    इतना कहकर संता अपने घर चला गया जिस दिन लॉटरी निकली तो दुर्भाग्य से संता की लॉटरी नहीं निकली और वह फिर मंदिर में भगवान के पास चला गया फिर से वही गुहार लगाने लगा हे भगवान मुझे लॉटरी जितवा दो संता फिर अपने घर चला गया फिर से लॉटरी निकली पर इस बार भी सांता को निराशा का ही मुहं देखना पड़ा!

    संता फिर भगवान के पास गया हे भगवान मुझे लॉटरी जितवा दो पर संता कई दिन तक लॉटरी नही जीत पाया!

    एक दिन उदास होकर भगवान के पास पहुंचा और भारी मन से भगवान से कहने लगा..

    हे भगवान! तुम मेरे साथ ऐसा क्यों कर रहे हो अब तो स्थिति ये बन गयी है कि मेरा घर गाड़ी सब बिक गए है, और मेरा परिवार भूखे मर रहा है... हे भगवान अब तो मुझे लॉटरी जितवा दे और संता निराश होकर वापिस जाने लगा और तभी..

    एक जोर कि बिजली कड़की जिसकी रोशनी संता के मुहं पर पड़ी और आकाशवाणी हुई...

    अरे उल्लू के पट्ठे संता पहले लॉटरी का टिकट तो खरीद!
  • डॉक्टर और पलम्बर!

    एक डॉक्टर के घर कि पानी कि पाइप टूट गयी उसने प्लम्बर को बुलाया!

    पलम्बर पहुँच गया उसने पाइप को चैक किया और फिर पाइप को जोड़कर डॉक्टर को 2000 रूपए का बिल पकड़ाया!

    डॉक्टर ने हैरानी के साथ अरे यह तो हास्यास्पद है मैं भी इतने पैसे नही कमा सकता!

    पलम्बर ने कहा मैं भी नही कमा पाता था जब मैं डॉक्टर था!