• दूसरा अफेयर!

    बंता: मेरे वैवाहिक जीवन से सारा रोमांच चला गया है!

    संता: तुम घर से बाहर कोई नया अफेयर क्यों नहीं चला लेते?

    बंता: पर अगर मेरी बीवी को पता चल गया?

    संता: अरे हम नए ज़माने में रहे हैं जाओ और उसे सब कुछ साफ़ साफ़ बता दो!

    बंता: अपने घर गया और बीवी से कहने लगा प्रीतो, मुझे लगता है के एक अफेयर हमें पास लाने में मदद करेगा!

    प्रीतो: भूल जाओ इस बात को, मैंने पहले ही ये कोशिश कर ली है, पर कोई फर्क नहीं पड़ा!
  • संता का फर्नीचर कारोबार!

    संता एक फर्नीचर डीलर था उसने अपने फर्नीचर का कारोबार बढ़ाने के बारे में सोचा और वो इसी सिलसिले में कुछ बढ़िया फर्नीचर देखने के लिए पेरिस चला गया!

    पेरिस पहुँचने के बाद (यह उसकी फ्रांस की राजधानी की पहली यात्रा थी) वह कई फर्नीचर बनाने वालों से मिला और अंत में कई तरह के फर्नीचर के नमूने पसंद करके उसने सोचा जब इंडिया वापिस लौटूंगा तो इन सबको साथ लेकर जाऊंगा!

    अपने नए कारोबार को शुरू करने की ख़ुशी में संता एक पब में जाकर शराब पीने लगा, वह बैठे हुए शराब पीने का आनंद ले रहा था तभी थोड़ी देर में एक सुंदर सी महिला उसके टेबल के पास आई और कुछ फ्रेंच भाषा में उससे पूछने लगी (जिसे वो समझ नहीं पाया) और उसने कुर्सी की तरफ इशारा किया!

    उसने उसे बैठने के लिए कहा उसने उसके साथ हिंदी, अंग्रेजी और पंजाबी में बात करने की कोशिश की पर उसने कुछ नहीं कहा क्योंकि वो इनमें से किसी भी भाषा को नहीं जानती थी इसलिए थोड़ी देर बाद उसने उसके साथ इशारों में बातें करनी शुरू कर दी, उसने एक नैपकिन पेपर उठाया और उस पर शराब का गिलास बनाया और उसे दिखाया!

    उस लड़की ने हाँ में सिर हिलाया और संता ने उसके लिए एक शराब का गिलास मंगवाया!

    कुछ देर साथ में टेबल पर बैठने के बाद उसने और एक नैपकिन निकाला और उस पर एक प्लेट बनाई जिसमें कुछ खाने की चीज बनाई, और उस लड़की ने हाँ में सिर हिला दिया!

    थोड़ी देर बाद वे वहां से बाहर चले गए और एक शांत कैफे में गए जहाँ एक म्यूजिकल ग्रुप बड़ा मीठा संगीत बजा रहे थे, उन्होंने डीनर मंगवाया, डीनर करने के बाद संता ने एक और नैपकिन उठाया और उस पर नाचते हुए जोड़े की तस्वीर बनाई और उस महिला को दिखाई!

    लड़की ने हाँ में सिर हिलाया और दोनों डांस करने लगे, वे दोनों तब तक डांस करते रहे जब तक कैफे बंद नहीं हुआ और बैंड वालों ने बैंड बजाना बंद नहीं किया!

    उसके बाद वे दोनों अपने टेबल के पास आये, उस लड़की ने नैपकिन उठाया और उस पर एक बिस्तर बनाया!

    आज तक संता को ये पता नहीं चला की उस लड़की को कैसे पता लगा कि उसका फर्नीचर का कारोबार है!
  • क्या दूसरी शादी करोगे?

    जीतो: अगर मैं मर जाऊं तो तुम क्या करोगे? क्या तुम दूसरी शादी कर लोगे?

    संता: बिलकुल नहीं!

    जीतो: क्यों नहीं- क्या तुम शादी करना नहीं चाहते?

    संता: करना तो चाहता हूँ!

    जीतो: फिर तुम दूसरी शादी क्यों नहीं कर लेते?

    संता: ठीक है! मैं दूसरी शादी कर लेता हूँ!

    जीतो: तुम्हें करनी चाहिए! (दुःख के साथ उसके चहेरे को देखकर)

    संता: भारी मन के साथ हाँ बिलकुल!

    जीतो: क्या उसके बाद तुम हमारे घर में रहोगे?

    संता: हाँ ये काफी बड़ा घर है!

    जीतो: क्या तुम उसके साथ हमारे बेड पर सोओगे?

    संता: तो फिर हम कहाँ सोयेंगे!

    जीतो: क्या तुम उसे मेरी गाड़ी चलाने दोगे?

    संता: बिलकुल, ये अभी काफी नयी है!

    जीतो: क्या तुम उसे मेरे गहने दोगे ?

    संता: नहीं, मुझे लगता है उसके पास अपने गहने होंगे!

    जीतो: क्या वो मेरे जूते भी पहेनेगी?

    संता: नहीं, उसका जूता 6 नम्बर का है!

    जीतो: चुप....

    संता: ओह नो!
  • तुम्हें कैसे अंडे पसंद है?

    संता और जीतो की शादी हो गयी! संता ने सोचा ये एक नए ज़माने की शादी है इसलिए दोनों की जिम्मेवारियां बराबर होनी चाहिए!

    इसलिए हनीमून से लौट कर पहली ही सुबह संता जीतो के लिए बिस्तर पर ही ब्रेकफास्ट लाया!

    जीतो उसकी पाक कला से ज्यादा प्रभावित नहीं हुई, उसने बड़े अनादर से ट्रे की तरफ देखा और सूंघकर कहा! उबला हुआ अंडा, मुझे तो तला हुआ अंडा चाहिए था!

    अगली सुबह संता पूरे जोश में अपनी पत्नी की पसंद का तला हुआ अंडा ले आया, जीतो ने वो भी नहीं खाया, तुम्हें पता नहीं मुझे अलग अलग किस्म के अंडे पसंद है? आज मुझे उबला हुआ अंडा चाहिए था!

    अपनी पत्नी को खुश करने के लिए अगले दिन सुबह बंता ने उसकी पसंद के दो अंडे बनाये, एक उबला हुआ एक तला हुआ और कहा लो मेरी जान खाओ!

    जीतो एकदम गुस्से हो गयी, तुम मूर्ख हो! तुमने गलत अंडा तल दिया और गलत उबाल दिया!