• पी रहे हैं...जी रहे हैं!

    एक समय की बात है, करंटपुरा नामक कस्बे में दो दोस्त रहा करते थे। पहला जबर्दस्त पियक्कड़ और दूसरा भला इंसान। दूसरा हमेशा पहले को समझाता रहता था।

    कुछ समय बाद दूसरा दोस्त कामकाज के सिलसिले में कस्बे से शहर जा पहुंचा। कुछ समय कमाई-धमाई की, फिर वापस गांव लौटा। अपनी नई साइकिल के पैडल मारते हुए सीधे अपने दोस्त के घर पहुँचा। पहला हमेशा की तरह धुत्त मिला।

    दूसरे ने पूछा, "और क्या चल रहा है?"

    पहला बोला, "कुछ नहीं बस, पी रहे हैं.. जी रहे हैं... तुम सुनाओ।"

    दूसरा बोला, "बस, बढ़िया, शहर में कामकाज चल निकला है। साइकिल खरीद ली है, तुम साले सुधर जाओ।"

    और पैडल मारते हुए वापस शहर की तरफ निकल लिया।

    कुछ दिनों बाद फिर शहर से कस्बे में पहुंचा। इस बार स्कूटर पर था। सीधे दोस्त के घर का रास्ता लिया। वहां फिर वही क्या चल रहा है? वही पी रहे हैं, जी रहे हैं... सुधर जाओ टाइप बातें हुईं। फिर दूसरे ने स्कूटर को किक लगाई और फिर शहर की दिशा में वापस हो लिए।

    इस बार दूसरा कुछ महीनों बाद कस्बे में पहुंचा। इस बार कार में था। सीधे दोस्त के घर का रास्ता लिया। पता चला कि वो घर पर नहीं हैं, खेत गया हुआ है। तो दूसरे ने कार सीधे खेत की दिशा मे दौड़ा दी। वहां पहुंचा तो देखता क्या है कि पहला खेत के बीचों-बीच खाट पर बैठ पी रहा है। पास में ही एक हेलिकॉप्टर खड़ा है। दूसरा सीधे अपने दोस्त के पास जा पहुँचा और वही पुरानी बातचीत शुरू हो गई, "और क्या चल रहा है?"

    पहला बोला, "बस, कुछ नहीं यार, वही पी रहे हैं, जी रहे हैं... पीते-पीते बोतलें ज्यादा इकट्ठी हो गईं तो बेचकर हेलिकॉप्टर खरीद लिया और पार्किंग के लिए खेत भी खरीद लिया है, और तुम सुनाओ।"

    दूसरा वहीं बेहोश हो गया।
  • सच्चा दोस्त कौन?

    रसोई में गैस पर कूकर चढ़ाया... सेल्फी वाली पोस्ट डाली और लिखा,

    "बीवी मायके गयी है और मुझे चाय बनानी है, कुकर में कितनी सीटी लगाऊँ?"

    दोस्तों के कमेंट्स आये:

    पहला दोस्त: कुकर में पहले ही एक सीटी लगी है, और कितनी लगाएगा?

    दूसरा दोस्त: बेवकूफ चाय कुकर में थोड़ी बनती है, कड़ाही चढा!

    तीसरा दोस्त: पहले दो घण्टे चाय पत्ती भिगो ले... दो तीन सीटी में काम चल जाएगा!

    चौथा दोस्त: खिड़की पर जाके एक सीटी बजा,  पड़ोसन चाय दे जाएगी!

    सबसे उत्तम कमेंट:

    अबे गधे, बीवी मायके गई है तो चाय क्यों पी रहा है? बेवकूफ बोतल पी और मौज कर, साथ हमें भी बुला, सीटी हम बजा देंगे।
  • वैज्ञानिक पति!

    पत्नी ने अपने वैज्ञानिक पति को फोन किया!

    पत्नी: आप आये नहीं, बाहर डिनर का प्रोग्राम था, लेट हो रहे हैं!

    पति: प्रिये, मैं अपनी टीम के साथ एक 'खास प्रयोग' में व्यस्त हूँ!

    पत्नी: कैसा प्रयोग?

    पति: हमने एक विशेष यौगिक C2H5OH (व्हिस्की) में सामान्य तापमान पर H2O (पानी) और तरल CO2 (सोडा) मिलाया! इस मिश्रण को निम्न तापमान पर पहुँचाने के लिये हमने इसमें अत्यधिक निम्न तापमान वाले ठोस H2O (बर्फ) को भी तय मात्रा में डाला है! अभी हम बाहर से protein (चिकन टिक्का) तत्व के आने का इंतज़ार करते हुये लेबोरेट्री के वातावरण nicotine (सिगरेट) की वाष्प से सुवासित कर रहे है! यह प्रयोग 5-6 चरणों तक चलेगा! आने में ज्यादा देर हो सकती है।

    पत्नी : ओह, सॉरी, मैंने आपको ख़ामख़्वाह डिस्टर्ब कर दिया, आप अपने काम पर ध्यान दो! मैं अपने लिये खिचड़ी बना लेती हूँ! आप भी कुछ मंगवा कर ख़ा लो।
  • पीने की समस्या!

    एक आदमी एक बार में गया और उसने एक जिन और सोडा मंगवाया उसने इसमें से आधा पिया और बाकि बार वाले के ऊपर गिरा दिया!

    बार वाले को काफी गुस्सा आया उसने उस शराबी को कॉलर से पकड़ा और खींच कर उसे अपने सामने लाया और पूछा, तुमने ऐसा क्यों किया?

    शराबी ने माफ़ी मांगते हुए कहा मुझे माफ़ कर दीजिये सर मैं माफ़ी मांगता हूँ, मैं इसमें कुछ नहीं कर सकता, ये एक बीमारी है जिससे मुझे छुटकारा नहीं मिल रहा है मैं बहुत शर्मिंदा हूँ! बार वाले ने कहा क्या तुम्हें कोई और नजर नहीं आया इस समस्या के लिए!

    शराबी ने कहा मैंने ऐसा कभी नहीं सोचा था की ये मैं आप पर फेकूंगा!

    बार वाले ने कहा जाओ अब तब तक मत आना जब तक तुम अपना इलाज न करवा लो और वो शराबी वहां से चला गया!

    लगभग तीन महीने बाद वापिस उसी बार मैं आया और जिन और सोडा लाने को कहा, शराबी ने इसे आधा पी लिया और बाकि बार वाले पर फेंक दिया!

    बार वाला जोर से चिल्लाया, मुझे याद है मैंने तुम्हें कहा था कि जब तक अपना इलाज न करवा लो तब तक यहाँ नहीं आना!

    शराबी ने कहा, मुझे याद है, पर अब मुझे शर्म नहीं आती!