• पत्नी का प्यार!

    एक औरत अपने पति को रसोईघर से बर्तन धोने में मदद के लिए पुकार रही थी, पर उसे कोई जवाब नहीं मिला।

    जब वह अपने पति को देखने बेड रूम में गयी तो पति थक कर अपने ऑफिस के फाइलों के ऊपर सोया हुआ था।

    वो उसके पास गयी और पति के निर्दोष चेहर को प्यार से सहलाया और 'चट...ट...टा...क...' करके एक थप्पड़ मारा

    पति हड़बड़ाकर उठा और पूछा क्या हुआ?

    फिर पत्नी ने उसे उसका फोन दिखाया जिसमें लिखा था,

    "Last seen on whatsapp 1 minute ago"
  • बीवियों के प्रकार!

    1. आलसी बीवी:
    खुद जाकर चाय बना लो और एक कप मुझे भी दे देना।

    2. धमकाने वाली बीवी:
    कान खोलकर सुन लो, या तो इस घर में तुम्हारी माँ रहेगी या मैं।

    3. इतिहास-पसंद बीवी:
    सब जानती हूँ तुम्हारा खानदान कैसा है।

    4. भविष्य-वाचक बीवी:
    अगले सात जन्मों तक मेरे जैसी बीवी नहीं मिलेगी।

    5. भ्रमित बीवी:
    तुम आदमी हो या पजामा?

    6. स्वार्थी बीवी:
    ये साड़ी मेरी माँ ने मुझे पहनने को दी है तुम्हारी बहनों के लिए नहीं।

    7. शक्की बीवी:
    मेरी कौन सी सौतन से फ़ोन पर बात कर रहे थे?

    8. अर्थशास्त्री बीवी:
    कौन सा कुबेर का खजाना कमा लाते हो जो रोज़ पनीर खिलाऊँ?

    9. धार्मिक बीवी:
    शुक्र करो भगवान का जो मेरे जैसी बीवी मिली।

    10. आम बीवी:
    मेरे नसीब में तुम ही लिखे थे?
  • आखिर पत्नी क्या है?

    फौजी: सारे दुश्मन हम से डरते हैं और हम बीवी से।

    मोची: मैं जूतों की मरम्मत करता हूँ और बीवी मेरी।

    टीचर: मैं कॉलेज में लैक्चर देता हूँ और घर में बीवी से सुनता हूँ।

    ऑफिसर: मैं ऑफिस में बॉस हूँ और घर में बीवी का नौकर।

    जज: मैं कोर्ट में फैसला सुनाता हूँ और घर में इंसाफ के लिए तरसता हूँ।

    दुकानदार: मैं दुनिया को बनाता हूँ फिर घर में पत्नी मुझे बनाती है।

    डॉक्टर: मैं दुनिया को ठीक करता हूँ और घर में बीवी मुझे ठीक करती है।

    फेसबुकिया: मैं दुनिया को पकाता हूँ और घर में बीवी मुझे पकाती है।

    अकाउंटेंट: मैं दुनिया का हिसाब रखता हूँ और बीवी मेरा हिसाब बराबर करती है।

    फैसला आपके हाथ में है... कुंवारे रहो खुश रहो।

    जो शादी कर चुके हैं वो कुछ नहीं कर सकते।
  • जन्मदिन का तोहफ़ा!

    क्यों बीवी के जन्मदिन का तोहफ़ा हर साल का सबसे बड़ा सवाल होता है?
    आईये जानते हैं:

    तोहफे में घड़ी दी।
    बीवी: समय देखने से क्या मिलेगा... मेरा समय तो तभी से खराब हो गया जब मैंने तुमसे शादी की थी।

    तोहफे में गहने दिए।
    बीवी: फालतू पैसों की बर्बादी करी... पुरानी डिजाइन के है। वैसे भी मैं कौन सा कुछ पहन पाती हूँ, आखिरी बार तो तुम्हारी बहन की शादी में 2 महीने पहले पहने थे।

    तोहफे में मोबाइल दिया।
    बीवी: मेरे पास तो पहले से है, और वैसे भी तुम्हारे वाला ज्यादा अच्छा है।
    मैं: ठीक है, तो मैं बदल कर मेरे जैसा ला देता हूँ।
    बीवी: रहने दो, महंगा होगा। वैसे भी मुझे उसके फंक्शन्स समझ नहीं आते।

    तोहफे में परफ्यूम दिया।
    बीवी: ये नहीं नहाने वालों के चोचले हैं... और ये मुझे देकर साबित क्या करना चाहते हो?

    तोहफे में रेशमी साड़ी दी।
    बीवी: ये कौन पहनता है आजकल? कभी कभार किसी त्योहार या शादी ब्याह में पहनेंगे फिर रखी रहेगी।

    तोहफे में सूट दिया।
    बीवी: फिर पैसों की बर्बादी... इतने सारे सूट पड़े पड़े सड़ रहे हैं। इसको भी रखने का सर दर्द ले आए।

    तोहफे में फूलों का गुलदस्ता दिया।
    बीवी: ये फूल पत्ती में क्यों पैसे बहा आए? इससे अच्छे फूल तो बाहर गमले में लगे है।
    मैं बाहर गमले से फूल ले आया।
    बीवी: ये क्यों तोड़ दिया? दिखने में कितने अच्छे लगते थे और वैसे भी मैंने इसे कल सुबह की पूजा के लिए छोड़ा था।

    तोहफे में कुछ नहीं दिया।
    बीवी: आज क्या दिन है?
    मैं: सोमवार
    बीवी: ऊहुँ... तारीख?
    मैं: 17 अगस्त।
    बीवी: तो?
    मैं: तो, हैप्पी बर्थडे।
    बीवी: बस, मेरा तोहफ़ा कहाँ है?