• दवा की शीशी!

    महिला: डॉक्टर साहब आप दवा की शीशियों पर पर्ची चिपका दें।

    डॉक्टर: अरे इसकी क्या जरुरत है?

    महिला: नहीं डॉक्टर साहब, आप बस पर्चियां चिपका दीजिये।

    डॉक्टर: ठीक है परन्तु क्यों?

    महिला: दरअसल, इससे मुझे पता रहेगा कि कौनसी गोली मेरे पति के लिए है और कौन सी कुत्ते के लिए है। क्योंकि मैं नहीं चाहती कि शीशी बदल जाए और मेरे कुत्ते को कुछ हो जाए।
  • बीवी का बीमा!

    एक आदमी ने अपने पूरे परिवार सहित मकान का बीमा कराया।

    अचानक एक दिन उसका मकान आग लगने से ध्वस्त हो गया. बीमा कंपनी का ऑफिसर जायजा लेने के लिए आया और उसने आदमी से कहा,"चिंता मत करो हमारी कंपनी की पॉलिसी सबसे अच्छी है, हम आपको ऐसा ही नया मकान बनवा कर देंगे।

    आदमी बोला,"अगर आपकी कंपनी की यही पॉलिसी है तो मेरी बीवी का बीमा अभी खत्म कर दीजिए।"
  • कार्बोरेटर में पानी!

    पति और पत्नी सुबह घर से अपनी-अपनी कार लेकर निकले।

    पति ऑफिस चला गया और पत्नी मार्किट चली गयी, आधे घंटे बाद पत्नी ने पति को फोन किया।

    पत्नी बड़े प्यार से बोली,"जानू कार में एक प्रोब्लम आ गयी है, इसके कार्बोरेटर में पानी चला गया है।"

    पति गुस्से से,"तुम्हारा दिमाग तो ठीक है, तुम्हें पता भी है कि कार्बोरेटर क्या होता है, तुम कार बताओ कहां पर है, मैं देख लूंगा।"

    पत्नी: किसी के स्विमिंग पूल में।
  • नाक में दम!

    कपड़े का एक व्यापारी नींद में स्वप्न देख रहा था।

    सपने में उसने देखा कि एक ग्राहक उससे 200 रुपये मीटर वाला कपड़ा मांग रहा है और वह कपड़ा नाप रहा है।

    अनायास ही उसका हाथ बिस्तर की चादर पर पड़ गया।

    उसने नींद में ही उसे फाड़ना शुरू कर दिया।

    चादर फटने कि आवाज सुनकर पत्नी जाग उठी और चीखते हुए बोली, अरे तुम यह क्या कर रहे हो?

    व्यापारी अर्धचेतन अवस्था में बोला, कम्बख्त ने नाक में दम कर रखा है, दुकान पर भी पीछा नहीं छोड़ती।