• कम नंबर!

    काम पर से थक हार कर घर आया, सोफे पर बैठ गया। पत्नी ने पानी का गिलास दिया और बच्चे ने मार्कशीट सामने रखी।

    हिंदी 44
    अंग्रेजी 35
    गणित 37

    आगे कुछ पढ़ने से पहले... "बेटा ! क्या मार्क है ये ? गधे, शर्म नहीं आती तुझे ? नालायक है तू नालायक..."

    पत्नी: अरे आप सुनो तो?

    "तू चुप बैठ! तेरे लाड़ प्यार ने ही बिगाड़ा है इसे. नालायक,अरे बाप दिनभर मेहनत करता है और तू ऐसे मार्क लाता है।"

    लड़का चुपचाप गर्दन नीचे।

    "अरे सुनो... तो!"

    "तू चुप कर, एक शब्द भी मत बोल. आज इसको बताता हूँ।"

    "अरे!"

    पत्नी का आवाज बढ़ गयी, मैं थोडा रुक गया।"

    "सुन तो लो जरा!"

    "सुबह अलमारी साफ करते समय मिली आपकी ही मार्कशीट है वो..."

    भयानक सन्नाटा!
  • कंजूसी की हद!

    एक कंजूस आदमी जिंदगी भर अपने पुत्रों को कम से कम खर्च करने की हिदायतें देता रहा था। जब वह मरणासन्न स्थिति में पहुंच गया तो पुत्र आपस में मशवरा करने लगे कि किस प्रकार पिता की इच्छा के अनुसार कम से कम खर्च में उनकी अंतिम यात्रा निपटाई जाए।

    एक ने कहा, "ऐम्बुलेंस में ले जाया जाए।"

    दूसरे ने कहा, "नहीं, ऐम्बुलेंस बहुत मंहगी होगी। ठेलागाड़ी में ले चलते हैं।"

    तीसरे ने कहा, "क्यों न साइकिल पर बांधकर ले चलें?"

    यह सब सुनकर कंजूस से रहा नहीं गया। उठकर बोला, "कुछ मत करो, मेरा कुर्ता और जूते ला दो। मैं पैदल ही चला जाऊंगा।
  • तलाक

    एक बार एक जज ने महिला से पूछा, "आप अपने पति से तलाक क्यों लेना चाहती है?"

    सवाल सुन महिला ने जवाब दिया, "जज साहब यह मेरा पति रात को दो बजे घर आया, इसने बुरी तरह शराब पी रखी थी तो मैंने इसके जूते उतारे, कपड़े बदलवाए, खाना खिलाया, सुलाने लगी तो यह मुझसे बोला, "तुम मुझे इतना प्यार करती हो रंजना?"

    यह सुन जज ने कहा, "लेकिन यह तो तलाक की कोई वजह नही हुई!"

    जज की बात सुन महिला जवाब देती है, "बिल्कुल है जज साहब क्योंकि मेरा नाम रंजना नही, निर्मला है!"
  • गर्लफ्रेंड बनाने के 5 फायदे

    1. दोस्तों में आपकी इज़्ज़त बढ़ जाती है।
    यह जीवन का एक कड़वा सच है दोस्तो। आज कल उसी लड़के की हर कोई इज़्ज़त करता है जिसकी गर्लफ्रेंड होती है। बिना गर्लफ्रेंड वालों को कोई नहीं पूछता।

    2. आप अपने दिल का दर्द उस से बाँट सकते हैं।
    अपने दिल का दर्द बाँटने के लिए आपके पास एक सच्चा साथी होता है। (किन्तु सच्चाई तो यह है कि जिसके पास गर्लफ्रेंड होती है उसका ही दिमाग हमेशा खराब रहता है।)

    3. आपकी हर बात मानने वाला कोई आपके पास होता है।
    गर्लफ्रेंड बनाने से आपके पास ऐसा इंसान आ जाता है जो आपकी हर एक बात मानता है। (किन्तु सबसे बड़ा सच तो यह है कि होता इसके बिल्कुल उल्ट है और हमेशा लड़के ही दबते हैं।)

    4. आपके बिगड़ने का खतरा नहीं रहता।
    लड़कों के घर वालों को हमेशा यही चिंता रहती है कि उनका लड़का कहीं बिगड़ न जाये। असल में जब एक बार किसी लड़के की गर्लफ्रेंड बन जाये तो बिगड़ने के लिए और कुछ नहीं रहता।

    5. फेसबुक पर आपके पोस्ट धनाधन पसंद किये जाते हैं।
    जी हाँ, यदि आपके पास गर्लफ्रेंड हो तो आप कुछ भी पोस्ट करें सबसे पहले आपकी गर्लफ्रेंड उसे पसंद करेगी और टिप्पणी करेगी और लड़की को देख कर हर कोई आपकी पोस्ट को पसंद करने आएगा, उस पर टिप्पणी करेगा।