• एक भयानक सत्य कथा!

    भारत में प्रथम श्रेणी में पास होने वाले विद्यार्थी टेक्नीकल में प्रवेश लेते हैं और वह डॉक्टर या इंजिनियर बनते है।

    द्वितीय श्रेणी में पास होने वाले MBA में एडमिशन लेते हैं और व्यवस्थापक/प्रबंधक बनते है तथा प्रथम श्रेणी वालों को हैंडल करते हैं।

    तृतीय श्रेणी में पास होने वाले कहीं पर भी प्रवेश नहीं लेते हैं। वह राजनीती में जाते है और प्रथम एवं द्वितीय श्रेणी वालो को हैंडल करते हैं।

    फेल होने वाले भी कहीं पर भी प्रवेश नहीं लेते हैं और वह अंडरवर्ल्ड में जा कर तीनों पर कंट्रोल करते है।

    और जो कभी स्कूल में गए ही नहीं वह बाबा-साधू बनते हैं और उपर लिखे चारों उनके पैर पढ़ते है।
  • कोरोना काल में पॉजिटिव रिपोर्ट!

    सुबह 6 बजे मेरे पड़ोसी ने मेरी बाइक की चाबी मांगी और कहा, "मुझे लैब से रिपोर्ट लानी है।"

    मैंने कहा, "ठीक है भाई ले जा।"

    थोड़ी देर बाद पड़ोसी रिपोर्ट ले कर वापिस आया, मुझे चाबी दी और मुझे गले लगाया और 'बहुत बहुत धन्यवाद' कहकर अपने घर चला गया।

    जैसे ही वह अपने घर गया, गेट पर ही खडे होकर अपनी पत्नी से कहने लगा, "रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है!"

    जब यह बात मेरे कान में पड़ी तो मैं तो गिरते-गिरते बचा! घबराकर मैने अपने हाथ सैनिटाइज़र से साफ़ किये!

    फिर बाइक को दो बार सर्फ से धोया, फिर याद आया उसनें मुझे गले भी लगया था!

    मैंने मन में सोचा, "*मारा गया तू बेटा, तुझे भी अब "कोरोना" होगा!"

    फिर मैं डेटोल साबून से रगड़-रगड़ कर नहाया और बाथरूम में ही दुःखी होकर एक कोने में बैठ गया।

    थोडी देर बाद मैंने पड़ोसी को फोन करके बोला: भाई, अगर आपकी रिपोर्ट पॉजिटिव थी, तो कम से कम मुझे तो बख्श देते! मैं बेचारा गरीब तो बच जाता!

    पड़ोसी जोर-जोर से हँसने लगा और कहने लगा "वो रिपोर्ट?"

    वो रिपोर्ट तो आपकी भाभी की प्रेग्नेंसी की रिपोर्ट थी जो पोजटिव आयी है!

    हर चीज़ कोरोना थोडे होती है!
  • सच्चा प्यार किससे?

    एक बार पप्पू, गोलू और राजू इस बारे में चर्चा कर रहे होते हैं कि किस देश के आदमी कैसे होते है!

    पहले पप्पू ने जापानी लोगों के बारे में बताया!

    पप्पू: इनकी एक पत्नी और एक गर्लफ्रेंड होती है, लेकिन वो अपनी पत्नी को ज्यादा पसंद करते है!

    उसके बाद गोलू ने अमेरिकी लोगों के बारे में बताया!

    गोलू: इनकी एक पत्नी और एक गर्लफेंड्र होती है, लेकिन ये अपनी गर्लफेंड्र को ज्यादा प्यार करते है!

    सबसे अंत में राजू की बारी आई तो वो कुछ देर सोच में पड़ गया और कुछ देर के बाद भारतीयों के बारे में बोलना शुरू किया!

    राजू: इनकी एक पत्नी और चार गर्लफेंड्र होती है, लेकिन ये अपने घर की नौकरानी से ज्यादा प्यार करते हैं!
  • दोस्त भी दोस्त ना रहा!

    एक अंग्रेज सिपाही, जिसकी बीवी बहुत खूबसूरत थी, को अचानक लड़ाई के मैदान से बुलावा आ गया।

    उसकी गैरमौजूदगी में उसकी बीवी कहीं किसी और से आंखे चार न कर बैठे इस डर से उसने अपनी बीवी को एक कमरे में बन्द किया और चाबी अपने एक विश्वासपात्र मित्र को देकर कहा, "मैं लड़ाई में भाग लेने जा रहा हूं। यदि मैं दस दिनों तक नहीं लौटूं तो तुम इस चाबी से ताला खोलकर उसे आजाद कर देना"।

    इतना कहकर वह सिपाही चल दिया।

    अभी वह थोड़ी ही दूर पहुंचा था कि उसने देखा उसका मित्र घोड़े पर सरपट दौड़ता हुआ उसे आवाज देता हुआ चला आ रहा है यह देख सिफाई ने उस से पूछा, "अरे क्या हुआ सब ठीक तो हैं?"

    दोस्त गुस्से से आग बबूला होकर उस पर चिल्लाते हुए बोला,"धोखेबाज! तू मुझे गलत चाबी देकर जा रहा है। इससे तो ताला खुल ही नहीं रहा।