• अदालत की तौहीन!

    एक आदमी को पत्नी के साथ मारपीट करने के जुर्म में अदालत में पेश किया गया। जज ने पति की जबानी पूरी घटना ध्यान से सुनी और भविष्य में अच्छा व्यवहार करने की चेतावनी देकर छोड़ दिया।

    अगले ही दिन आदमी ने पत्नी को फिर मारा और फिर अदालत में पेश किया गया।

    जज ने कड़क कर पूछा, "तुम्हारी दोबारा ऐसा करने की हिम्मत कैसे हुई? अदालत को मजाक समझते हो?"

    आदमी ने अपनी सफाई में जज को बताया, "नहीं हुजूर, आप मेरी पूरी बात सुन लीजिए। कल जब आपने मुझे छोड़ दिया तो अपने आप को ताज़ा करने के लिए मैंने थोड़ी सी शराब पी ली। जब उससे कोई फर्क नहीं पड़ा तो थोड़ी-थोड़ी करके मैं पूरी बोतल पी गया। पीने के बाद जब मैं घर पहुंचा तो पत्नी चिल्लाने लगी 'हरामी, आ गया नाली का पानी पीकर'?

    हुजूर, मैंने चुपचाप सुन लिया, और कुछ नहीं कहा। फिर वह बोली, 'कमीने, कुछ काम धंधा भी किया कर या केवल पैसे बर्बाद करने का ही ठेका ले रखा है'।

    हुजूर, मैंने फिर भी कुछ नहीं कहा और सोने के लिए अपने कमरे में जाने लगा। वह पीछे से फिर चिल्लाई, 'अगर उस जज में थोड़ी सी भी अकल होती तो तू आज जेल में होता'।

    बस हुजूर, अदालत की तौहीन मुझसे बर्दाश्त नहीं हुई और मैंने इसे पीट दिया।"

    बस फिर क्या था जज ने केस ख़ारिज किया और पति को बा-इज्ज़त बरी।
  • मनोविज्ञान की छात्रा!

    एक युवक ने बार के अन्दर घुसने पर एक सुन्दर युवती को देखा एक घण्टे की कोशिश के बाद आखिर उसने हिम्मत जुटायी और उसके पास जाकर धीरे से बोला अगर आप बुरा न मानें तो क्या मैं आपके साथ थोड़ी देर बातें कर सकता हूं!

    वह युवती जोर से चीखी नहीं मैं तुम्हारे साथ सोने वाली नहीं हूं!

    बार में सभी लोग उसकी तरफ देखने लगे घबराकर लड़का चुपचाप आकर अपनी जगह आकर बैठ गया! कुछ मिनटों बाद युवती उसके पास चल कर आयी और माफी मांगी फिर उसकी ओर देखकर मुरकरायी और बोली मैं माफी चाहती हूं मैंने आपको परेशान कर दिया असल में मैं मनोविज्ञान की छात्रा हूं, और आजकल मैं यह अध्ययन कर रही हूं कि ऐसी परिस्थितियों में लोगों की प्रतिक्रिया क्या होती है?

    इतना सुनने पर लड़का अपनी पूरी ताकत से चिल्लाया 500 रू मैं तो क्या तुम्हें 200 भी नहीं दूंगा!
  • पुरुष!

    भगवान की ऐसी रचना जो बचपन से ही त्याग और समझौता करना सीखता है।

    वह अपने चॉकलेटस का त्याग करता है अपने दांत बचाने के लिये।

    वह अपने सपनो का त्याग कर माता-पिता की खुशी के लिये उनके अनुसार कैरियर चुनता है।

    वह अपनी पूरी पॉकेट-मनी गर्लफ़्रेंड के लिये गिफ़्ट खरीदने में लगाता है।

    वह अपनी पूरी जवानी बीवी-बच्चों के लिये कमाने में लगाता है।

    वह अपना भविष्य बनाने के लिये लोन लेता है और बाकी की ज़िंदगी उस लोन को चुकाने में लगाता है।

    इन सबके बावज़ूद वह पूरी ज़िंदगी पत्नी, माँ और बॉस से डांट सुनने में लगाता है।

    पूरी ज़िंदगी पत्नी, माँ, बॉस और सास उस पर कंट्रोल करने की कोशिश करते हैं।

    उसकी पूरी ज़िंदगी दूसरों के लिये ही बीतती है।

    इसलिए हमेशा एक पुरुष का सम्मान करें|
  • व्हाट्सएप ज्योतिषी!

    1. जिसकी डीपी स्थिर रहती है उसका स्वभाव शांत रहता है!

    2. बार-बार डीपी बदलने वाले चंचल स्वभाव के होते है!

    3. छोटे स्टेटस रखने वाले संतोषी प्रवृत्ती होते हैं!

    4. हमेशा स्टेटस बदलने वाले शौकीन होते हैैं!

    5. सतत कुछ न कुछ शेअर करने वाले दिलदार मन के होते हैं!

    6. कभी भी किसी को लाईक न करने वाले घमंडी होते हैं!

    7. प्रत्येक पोस्ट पर दिल से प्रतिक्रिया देने वाले रसिक और दुसरो की भावनाओं का आदर करने वाले होते हैं!

    8. इधर के मेसेज उधर फेंकने वाले राजनितीक प्रवृत्ति के होते हैं!

    9. फोटो या पोस्ट देखते ही ओपन करने वाले अधीर स्वभाव के होते हैं!

    10. पुरानी पोस्ट बार बार चिपकाने वाले उद्दंड होते हैं!

    11. दुसरे की पोस्ट को पीछे कर स्वतः की पोस्ट आगे ढकलने में माहिर व्यक्ती खुद के बोलबाले करने वाले होते हैं!

    12. मेसेज पढ़कर भी प्रतिक्रिया न देने वाले संकुचित प्रवृत्ती के होते हैं!

    13. कभी भी कुछ भी शेअर न करने वाले कंजूस होते हैं!

    14. बड़े मेसेज ना पढ़ने वाले आलसी या अति व्यस्त होते हैं!

    15. अलग अलग वॉट्स अप ग्रुप बनाने वाले अति महत्वाकांक्षी होते हैं!

    16. काम तक सीमित वॉट्सअप चालू रखने वाले जीवन में यशस्वी होते हैं!

    नोट - देखिये... आप कहाँ फिट होते हैं?