• चमत्कारी औषधि!

    एक बार एक आदमी एक डॉक्टर के पास जाता है और बड़ी झिझक के साथ उंगलियाँ हिलाते हुए और हडबडाते हुए कहता है "डॉक्टर, मैं यौन प्रदर्शन समस्या से पीड़ित हूँ तो क्या आप मेरी मदद कर सकते हैं?"

    "ओह, अब यह हम पुरुषों के लिए एक समस्या नहीं है!" चिकित्सक ने बड़े गौरवान्वित अंदाज़ में कहा , " इन सभी समस्याओं से इस चमत्कारी औषधि , वियाग्रा, से ठीक किया जा सकता है तुम कुछ गोलियाँ लो , और तुम्हारी समस्या गयाब हो जायेगी।"

    तो डॉक्टर उस आदमी को दवाई का परचा देकर उसे उसके संतोषमय रास्ते पर भेज देता है।

    कुछ महीने के बाद, डॉक्टर को वह रोगी रास्ते में मिलता है।

    "डॉक्टर, डॉक्टर!" आदमी उत्साह से चिल्लाता हुआ डॉक्टर के पास आता है , "मैं तुम्हारा शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ जो दवा तुमने मुझे दी वो सच में चमत्कारी है।"

    "मुझे यह सुन कर ख़ुशी हुई" डॉक्टर मुस्कुराते हुए कहता है और रोगी से पूछता है कि "इस बारे में तुम्हारी पत्नी का क्या सोचना है।"

    पत्नी ? आदमी ने कहा ," मैं तो अभी तक घर पहुंचा ही नहीं। "
  • डीलक्स सेवाएं!

    एक नेता जी हॉस्पिटल का सर्वे करने गए, उन्होंने ने जनरल वार्ड में देखा कि मरीज़ मुट्ठ मार रहा था।

    नेता जी ने हैरान होकर डॉक्टर से पूछा, ये क्या है?

    डॉक्टर ने समझाया: इसके शुक्राणु बहुत तेजी से बनते हैं जो हर घंटे निकालना जरूरी है।

    नेता जी अगले वार्ड में पहुंचे, उधर एक नर्स मरीज़ का लंड चूस रही थी।

    ये देखकर नेता जी फिर हैरान हुए और डॉक्टर से पूछा, अब ये क्या है?

    डॉक्टर: बिमारी वही है पर ये डीलक्स वार्ड है।
  • खराबी किसमे है!

    एक बार एक बे- औलाद दंपति एक गुप्त रोग विशेषज्ञ के पास जांच के लिए जाते हैं।

    कुछ देर दोनों पति पत्नी से बात करने के बाद डॉक्टर उन्हें जांच करने के लिए अन्दर एक कमरे में ले जाता है, और उस महिला के ऊपर चढ़ कर उसे चोदने लगता, और पीछे से अपने ऊपर उस आदमी को चढ़ा लेता है।

    अभी वो तीनो चुदाई कर ही रहे होते हैं की कहीं से एक नर्स कमरे में आ जाती है, और चीख कर कहती है, "डॉक्टर साहब ये आप क्या कर रहे हैं"?

    डॉक्टर: कुछ नहीं मैं तो बस यह चेक कर रहा हूँ की खराबी औरत में है या मर्द में।
  • एक रोगी के साथ सेक्स!

    अपने एक मरीज़ के साथ सेक्स करने के बाद जब एक डॉक्टर आराम कर रहा होता है तो उसे अचानक आत्मग्लानि होती है ओर उसे लगता है की जो उसने किया वह नैतिक नहीं था।

    तभी उसकी अंतरात्मा उस से कहती है कि "तुम कोई पहले इंसान नहीं हो जिसने ऐसा किया है और भी बहुत डॉक्टरों के अपने रोगियों के साथ यौन संबंध हैं।"

    यह सोच कर डॉक्टर थोडा बेहतर महसूस करने लगता है की तभी अचानक फिर उसकी अंतरात्मा की आवाज़ आती है कि "पर उनमे से कोई भी जानवरों का डॉक्टर नहीं है।"