• लुकाछिपी बंद!

    पप्पू जब संता के साथ पिकनिक मना कर वापिस आया तो जीतो ने उसे पूछा: आज तो तुम्हें बहुत मज़ा आया होगा अपने पापा के साथ पिकनिक मना कर?

    पप्पू: हाँ मम्मी, अच्छा लगा। हम सब ने मिलकर लुकाछिपी खेली।

    जीतो: और कितने बच्चे थे वहाँ?

    पप्पू: बच्चा तो मैं अकेला ही था।

    जीतो: फिर तुमने लुकाछिपी किसके साथ खेली?

    पप्पू: मैं, पापा और एक सुन्दर सी आंटी।

    जीतो: आंटी?

    पप्पू: हाँ मम्मी, पर अब मैं पापा के साथ कभी नहीं खेलूंगा। उन्हें तो खेलना ही नहीं आता। जब हम खेल रहे थे तो वो आंटी एक कमरे में छिप गयी और पापा उसे ढूंढ़ने के लिए अंदर गए तो पूरे आधे घंटे बाद वापिस निकले।

    जीतो(गुस्से में आग-बबूला होते हुए): बस बेटा आज के बाद तुम्हारे पापा कभी लुकाछिपी खेल ही नहीं पाएंगे!
  • बूझो तो जानो!

    एक लड़की पप्पू से: वो किया है जो गाय के पास 4 और मेरे पास 2 हैं?
    पप्पू: पाँव!

    लड़की: वो किया है जो तुम्हारी पैंट के अन्दर है और मेरी सलवार में नहीं है?
    पप्पू: जेब!

    लड़की: वो किया है जो लोग दिन मैं करने के बजाय रात को बिस्तर पर करते हैं पप्पू: नींद पूरी करते हैं!
    लड़की: वो किया है जो लड़की पहली दफा करवाते हुए दर्द की वजह से रोती है?

    पप्पू: कान में छेद!
  • दूर की सोच!

    एक दिन क्लास में टीचर ने कहा, "बच्चो मैं एक अक्षर बोलूंगी तो तुम्हें मुझे एक शब्द बताना होगा।"

    सबसे पहले टीचर ने अक्षर बोला, 'ग'।

    पप्पू और बाकी बच्चों ने हाथ उठाया पर टीचर ने पप्पू की ओर यह सोच कर ध्यान नही दिया कि कुछ उल्टा ही बोलेगा तो उसने किसी दुसरे बच्चे को खड़ा कर के पूछा।

    बच्चा: गमला।

    टीचर: बहुत खूब।

    फिर टीचर ने अक्षर बोला, 'ल'।

    फिर पप्पू और बच्चों ने हाथ उठाया पर टीचर ने फिर पप्पू की ओर यह सोच कर ध्यान नही दिया कि कुछ उल्टा ही बोलेगा तो उसने किसी दुसरे बच्चे को खड़ा कर के पूछा।

    बच्चा: लड्डू।

    टीचर: बहुत खूब।

    टीचर ने अब दोबारा अक्षर बोला 'स'।

    फिर पप्पू और बच्चों ने हाथ उठाया। टीचर को 'स' से कोई उल्टा शब्द नहीं सूझा तो उसने पप्पू को खड़ा कर लिया।

    पप्पू: साले चूतिये!
  • पप्पू पर पड़ गयी भारी!

    बच्चों मैं विज्ञान की बहुत बड़ी शिक्षक हूँ मेरे से कुछ भी पूछो।

    यह सुन पप्पू ने हाथ उठा दिया और टीचर से बोला, "टीचर जब हम ऊँगली में अंगूठी पहन कर उतारते हैं तो वो जगह गोरी हो जाती है, ऐसे ही जब हम जुराब पहन कर उतारते हैं तो हमारे पैर गोरे हो जाते हैं, परन्तु जब हम चड्डी उत्तारते हैं तो हमारा लंड गोरा क्यों नहीं होता?"

    टीचर ने पप्पू को मन ही मन गालियाँ दी और बोली, "बेटा वह इसीलिए क्योंकि तुम्हारा लंड हमेशा लड़कियों को बुरी नज़र से देखता रहता है।"

    पप्पू ने फिर पूछा, "तो उससे हमारे लंड के काले होने का क्या ताल्लुक है?"

    टीचर: भोसड़ी के, तूने कभी सुना नहीं क्या,....बुरी नज़र वाले तेरा मुंह काला।