• शायराना इश्क़!

    एक बार संता एक लड़की के घर के चक्कर लगा रहा होता है कि तभी लड़की अपने घर से बाहर निकल कर आ जाती है। यह देख संता उस से कहता है, " क्या तुम मुझसे शादी करोगी?"

    लड़की: नहीं।

    संता: पर क्यों।

    लड़की: क्योंकि मैंने सोचा है कि मैं एक शायर से ही शादी करुँगी।

    यह सुन संता जवाब देता है, "अरे तो मैं भी तो शायर ही हूँ"।

    लड़की: मैं कैसे मान लूँ? अगर तुम सच में शायर हो तो कुछ सुनाओ।

    संता: इतनी हिम्मत करके आया हूँ तेरे दर आ करीब आ मेरी ज़िन्दगी सुधार दे;
    इतनी हिम्मत करके आया हूँ तेरे दर आ करीब आ मेरी ज़िन्दगी सुधार दे;
    चूत नहीं देनी तो कोई बात नहीं कम से कम मुट्ठ ही मार दे!

    संता की शायरी सुन कर लड़की का पारा सातवें आसमान पर पहुँच जाता है पर फिर भी वह कहती है, "तुम्हारी शायरी सुन कर मेरा भी मन कर रहा है कि मैं तुम्हारे प्रस्ताव का जवाब शायराना अंदाज़ में ही दूँ।"

    संता: हाँ हाँ, क्यों नहीं।

    लड़की: तू मेरी गली से गुजरा तो तुझे चौबारा नज़र आया;
    तू मेरी गली से गुजरा तो तुझे चौबारा नज़र आया;
    गांड फाड़ दूंगी भोंसड़ी के जो दोबारा नज़र आया!
  • संता की समझदारी!

    एक दिन संता ने अपने पड़ोस में रहने वाले आदमी से कहा, "यार तेरी बीवी बड़ी खर्चीली है।"

    पडोसी: नहीं तो, मेरी बीवी तो बहुत ही समझदार है और कभी मेरा फ़ालतू खर्चा नहीं करवाती। परन्तु तुमने ऐसा क्यों कहा?

    संता: अरे कुछ नहीं बस वैसे ही, अच्छा एक बात बता, क्या 48 साल के बाद औरत को बच्चा हो सकता है?

    पडोसी: नहीं यार ये तो बहुत ही मुश्किल है। क्यों क्या हुआ?

    संता: तो चुतिये तू अपनी बीवी को समझा ना, ऐसे ही फालतू में कंडोम खरीदने में मेरे पैसे खर्च करवाती रहती है।
  • मैं ऐसा क्यों हूँ?

    एक बार संता का एक अफ्रीकन दोस्त आया हुआ था। दोनों फैंसी ड्रेस की प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए तैयार हो रहे थे।

    अफ्रीकन दोस्त: यार संता, मैं क्या बन कर जाऊं?

    संता ने उसे एक स्नोमैन का ड्रेस दिया और बोला, "तू स्नोमैन बन कर जा।"

    अफ्रीकन दोस्त: साले तुमने कभी काला स्नोमैन देखा है क्या?

    संता ने फिर उसे सांता क्लॉज़ का ड्रेस दिया और बोला, "चल तू सांता क्लॉज़ बन जा फिर।"

    अफ्रीकन दोस्त: तू मेरा मज़ाक उड़ा रहा है। सांता क्लॉज़ भी काला नहीं है।

    अबकी बार संता एक डंडा लेकर आया।

    अफ्रीकन दोस्त: इसका मैं क्या करूँ?

    संता: बहनचोद, इसको अपनी गांड में ले ले और 'चोकोबार' (CHOCOBAR) बन कर जा साले!
  • शादी के साइड इफ़ेक्ट!

    एक दिन संता बाजार से गुज़र रहा था कि उसने देखा कि लाला जी एक दम तैयार होकर बाहर बैठे हुए हैं।

    संता: क्या बात है लाला जी, आज बहुत चमक रहे हो कोई खास बात है क्या?

    लाला जी: बस क्या बताऊँ, कल बापू ने बड़े भाई की शादी कर दी। पहले बड़े ने मज़े किये, फिर मैंने और छोटा अभी तक मज़े ले रहा है।

    संता ने सोचा इनके तो खूब मज़े हैं और चला गया।

    कुछ दिन बाद फिर वही नज़ारा था।

    संता: लाला जी आज फिर चमक रहे हो कोई खास बात?

    लाला जी: बस क्या बताऊँ कल मेरी शादी हो गयी। पहले बड़े ने मज़े किये और फिर मैंने मज़े किये और छोटा तो अभी तक मज़े ले रहा है।

    संता ने सोचा कि इनके तो सच में मज़े हैं शादी एक की होती है मज़े तीनो करते हैं।

    कुछ दिन बाद जब संता दोबारा उस राह से गुज़रा तो उसने देखा कि लाला जी के कपडे फटे हुए हैं, बाल बिखरे हुए हैं। पूरी तरह से हालत खराब है।

    संता: क्या हुआ लाला जी, आज ऐसी हालत कैसे?

    लाला जी: क्या बताऊँ, कल बापू ने मेरी बहन की शादी एक पठान से कर दी। पहले उसने बड़े की ली, फिर मेरी ली और छोटे की तो अभी तक ले रहा है!