• पप्पू की सर्कस!

    पप्पू अपनी गर्लफ्रेंड से: ये लो सर्कस के टिकट।

    गर्लफ्रेंड टिकट गिनने के बाद: इसमें तो दो टिकट कम हैं।

    मम्मी, डैडी, भइया, भाभी और मुन्ना सब जा सकते हैं, पर हमारे दो टिकट कहाँ हैं?

    क्या हम सर्कस देखने नहीं जा पाएंगे?

    पप्पू: सर्कस का तो मुझे भी बहुत शौंक है, मगर उन सब के सामने हम अपने करतब

    नहीं दिखा पाते। अब तीन घंटे हमारा शो चलेगा!
  • पप्पू की एम्बुलेंस!

    पप्पू की एक लड़की से काफी समय से सेटिंग चल रही थी।
    बहुत दिनों तक मनाने के बाद वो सेक्स के लिए राज़ी हो गयी।

    पप्पू ने शाम को उसे अपने घर बुलाया और बोला:
    चलो आज हम एम्बुलेंस-एम्बुलेंस खेलते हैं।

    लड़की: यह कैसी गेम है? मैंने तो आज तक इसका नाम नहीं सुना।

    पप्पू(मुस्कुराते हुए): अरे, बहुत आसान है, जब मैं अपना लंड तुम्हारे अंदर डालूं और जब तुम्हे दर्द हो और तुम मुझ्हे रोकना चाहो तो बस तुम 'रेड लाइट-रेड लाइट' बोलना।

    लड़की: ठीक है।

    पप्पू ने जैसे ही उसके अंदर डाल कर 2-3 धक्के दिए तो लड़की दर्द के मारे चिल्ला उठी,
    'रेड लाइट-रेड लाइट', रुक जाओ रेड लाइट, मर गयी रेड लाइट।

    मगर पप्पू रुका नहीं और शैतानी हंसी हँसते हुए बोला,
    "अरे बहन की लोड़ी, एम्बुलेंस भी कभी रेड लाइट पे रूकती है क्या?"
  • कभी दिल मत तोड़ना!

    एक बार पप्पू अपनी गर्लफ्रेंड के साथ बड़े ज़बरदस्त तरीके से सेक्स कर रहा था।

    सेक्स करते हुए पप्पू की गर्लफ्रेंड अचानक घबरा कर बोली, "मुझसे वादा करो कि तुम मेरा दिल नहीं तोड़ोगे?"

    पप्पू ने मुस्कुराते हुए जवाब दिया," अरे नहीं पगली इतना लंबा थोड़ी है कि तेरे दिल तक पहुँच जाए।"
  • कितनी बाल्टी उठा सकते हो?

    अध्यापक, पप्पू एक साथ कितनी बाल्टी उठा सकते हो?

    पप्पू बोला, 2 बाल्टी एक लेफ्ट और राईट हाथ से उठा सकता हूँ।

    अध्यापक, साले चूतिये मैं एक साथ 3 बाल्टियां उठा सकता हूँ।

    पप्पू: कैसे?

    अध्यापक: एक लेफ्ट हाथ से, एक राईट हाथ से और एक अपने लौड़े पे।

    पप्पू सोचता है इस हरामखोर मास्टर का कुछ करना पड़ेगा।

    वो बोला मैं एक साथ 5 बाल्टियां उठा सकता हूँ सर।

    अध्यापक: कैसे?

    पप्पू: एक लेफ्ट हाथ से एक राईट हाथ से बाकी आपको अपने लौड़े पे बैठा के।