• होशियार तोता!

    एक बार एक आदमी अपनी गर्लफ्रेंड को खुश करने के लिए कोई तोहफा ढूंढ रहा था तो उसने देखा कि जानवरों की एक दुकान पर सेल का बोर्ड टंगा हुआ है।

    वो झट से दुकान के अंदर घुस गया और इधर-उधर देखने लगा।
    तभी उसे वहां पिंजरे में एक तोता दिखाई दिया, लेकिन सभी जानवरों की बिक्री नीलामी बोली से हो रही थी।

    जब तोता नीलामी के लिए आया तो बोली सबसे ऊँची गयी पर आखिरी बोली उसी आदमी के नाम पर ही छूटी।

    आदमी खुश हो गया और वह तोता लेकर बाहर निकल आया। बाहर आते-आते उसे ख्याल आया कि कहीं उसका चुतिया तो नहीं बना दिया। पता नहीं यह तोता बोलता भी है या नहीं।

    वह वापिस दुकान में गया और मालिक से पूछा कि यह तोता सच में बोलता है या तुम लोगों ने मुझे चुतिया बना दिया है।

    इससे पहले कि दुकानदार कुछ बोलता, तोते ने जवाब दिया, "साले हम तुम्हे चुतिया क्यों बनाएंगे तुझे तो यह भी नहीं पता चला कि तेरे खिलाफ बोली मैं खुद ही बड़ा रहा था।"
  • लालच!

    एक बार एक आदमी ने पार्टी में एक लड़की को देख कर उससे पूछा कि अगर वो उसे एक बार अपना टॉप उतार कर अपने बूब्स दिखाए तो वो उसे 500 रुपये देगा।

    लड़की ने हाँ कर दी और 500 रुपये लेकर अपना टॉप उतार दिया।

    आदमी की लालच बड़ी और बोला कि अगर तुम अपनी जीन्स उतार कर अपनी चूत दिखा दोगी तो मैं तुम्हें 1000 रुपये दूंगा।

    लड़की ने 1000 रुपये लिए और अपनी जीन्स भी उतार दी।

    यह देख कर आदमी का मन और ललचा गया और बोला कि अगर तुम मेरे साथ सेक्स करोगी तो कितने पैसे लोगी?

    लड़की: वही जो सबसे लेती हूँ 300 रुपये!
  • आ बैल मुझे मार!

    एक बार जीजा अपनी साली को लेकर शहर से गांव लौट रहा था। उसके हाथों में एक बाल्टी, एक छड़ी, बगल में एक मुर्गी और बकरी की रस्सी थी।

    रात चांदनी थी और साली जवान।

    अचानक साली बोली: मुझे आप के साथ चलने में डर लग रहा है। कहीं आप कुछ बदमाशी ना करने लगें।

    जीजा: अरे मैं कैसे कोई बदमाशी कर सकता हूँ। मेरे तो दोनों हाथ घिरे हुए हैं, चाह कर भी मैं कुछ नहीं कर सकता।

    साली: कैसे नहीं कर सकते? अभी अगर आप छड़ी ज़मीन में गाड़कर बकरी उसके साथ बांध दें और मुर्गी को बाल्टी के नीचे रख दें तो फिर जो चाहें कर सकते हो आप।
  • ईमानदार सपूत!

    एक लड़का एक सीमेंट की फैक्ट्री में काम करता था। एक दिन उसका बाप उस से बोला," बेटा घर बनवाना है 25 बोरियां सीमेंट की ला दे।

    बेटा: नहीं मैं बहुत ईमानदार हूँ।

    बाप: अच्छा 15 ही ला दे।

    बेटा: नहीं, मेरी भी कुछ इमेज है मेरे दफ्तर में।

    बाप: चल 5 ही ला दे।

    बेटा: नहीं।

    बाप: अच्छा 1 तो ला दे।

    बेटा: नहीं।

    बाप: तो ठीक है एक मुट्ठी तो ला दे।

    बेटा: एक मुट्ठी से क्या होगा?

    बाप: तेरी माँ की चूत पर लगाउंगा, ताकि तेरे जैसा कोई दूसरा ईमानदार पैदा ना हो भोंसड़ी के।