एक बार एक किसान एक बंजर ज़मीन का टुकड़ा खरीदता है, जिसे की वह एक संपन्न उद्यम में बदलने की लालसा रखता है, जब वह उस खेत को खरीदता है तो उसमे बहुत सारी जंगली झाड़ियाँ...
उसके पिता ने कहा बेटा सच में मुझे तुम पर गर्व है तुमने एक महीने में ही अपने ग्रेड को ऊपर कर दिया और तुम रोज बाईबल भी पढ़ने लगे हो पर...
मंदिर के पुजारियों ने तो आत्मदाह तक करने की धमकी दे डाली और एक याचिका कोर्ट में दे दी कि कोर्ट आदेश दें की वह आदमी मंदिर के सामने बार न बनायें...
अगले दिन छोटा बच्चा फिर से उस चर्च के पास से गुज़र रहा था और उपदेशक भी बाहर थे इस बार दो पहिये खुल गए और लड़का फिर से चिल्लाया...
आखिरकार वे ईश्वर की मदद लेने के लिए एक साधु के पास पहुंचे, साधु ने कहा बेटे, तुम बहुत ही सही समय पर आए हो, मैं कुछ सालों के लिए तपस्या करने...
एक दिन उस नदी में बाढ़ आ गयी वह आदमी घर समेत बह गया काफी दूर बहने के बाद उसने बचने का प्रयास किया वह सीधे घर कि छत पर चढ़ गया तो देखा पानी काफी भर चुका है...
ये सुनकर उन्होंने स्वर्ग में प्रवेश किया जैसे ही वे अंदर गयी उन्होंने देखा कि अन्दर तो हर जगह पर बतखें ही बतखें है यह बहुत मुश्किल था कि बतखों पर बिना पाँव रखे चला जा सके...
एक बार एक अध्यापक, कूड़ा करकट इकट्ठे करने वाला और एक वकील स्वर्ग के द्वार पर पहुंचे सेंट पीटर ने उन्हें कहा कि उन्हें एक एक प्रश्न का जवाब देना होगा वो तभी भीतर प्रवेश कर सकते हैं!
एक बार एक अध्यापक, कूड़ा करकट इकट्ठे करने वाला और एक वकील स्वर्ग के द्वार पर पहुंचे सेंट पीटर ने उन्हें कहा कि उन्हें एक एक प्रश्न का जवाब देना होगा वो तभी भीतर प्रवेश कर सकते हैं!
अगले दिन छोटा बच्चा फिर से उस चर्च के पास से गुज़र रहा था और उपदेशक भी बाहर थे इस बार दो पहिये खुल गए और लड़का फिर से चिल्लाया...
आखिरकार वे ईश्वर की मदद लेने के लिए एक साधु के पास पहुंचे, साधु ने कहा बेटे, तुम बहुत ही सही समय पर आए हो, मैं कुछ सालों के लिए तपस्या करने...
एक दिन उस नदी में बाढ़ आ गयी वह आदमी घर समेत बह गया काफी दूर बहने के बाद उसने बचने का प्रयास किया वह सीधे घर कि छत पर चढ़ गया तो देखा पानी काफी भर चुका है...
ये सुनकर उन्होंने स्वर्ग में प्रवेश किया जैसे ही वे अंदर गयी उन्होंने देखा कि अन्दर तो हर जगह पर बतखें ही बतखें है यह बहुत मुश्किल था कि बतखों पर बिना पाँव रखे चला जा सके...