• वह जो अपने सम्प्रदाय की महिमा बढाने के इरादे से उसका आदर करता है और दूसरों के संप्रदाय को नीचा दिखाता है, ऐसे कृत्यों से वह अपने ही सम्प्रदाय को गंभीर चोट पहुंचता है।Upload to Facebook
    वह जो अपने सम्प्रदाय की महिमा बढाने के इरादे से उसका आदर करता है और दूसरों के संप्रदाय को नीचा दिखाता है, ऐसे कृत्यों से वह अपने ही सम्प्रदाय को गंभीर चोट पहुंचता है।
    ~ Ashoka
  • जिस तरह किसी को आस्था के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता, उसी तरह किसी को नास्तिकता के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता|Upload to Facebook
    जिस तरह किसी को आस्था के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता, उसी तरह किसी को नास्तिकता के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता|
    ~ Sigmund Freud
  • परिश्रम सौभाग्य की जननी है|Upload to Facebook
    परिश्रम सौभाग्य की जननी है|
    ~ Benjamin Franklin
  • इंसान से प्रेम ही ईश्वर की सच्ची भक्ति है|Upload to Facebook
    इंसान से प्रेम ही ईश्वर की सच्ची भक्ति है|
    ~ Guru Gobind Singh Ji
  • विश्वास में सृजन करने की शक्ति होती है और विनाश करने की भी।Upload to Facebook
    विश्वास में सृजन करने की शक्ति होती है और विनाश करने की भी।
    ~ Tony Robbins
  • किसी कंपनी के लिए एक ब्रांड एक व्यक्ति के लिए उसकी साख की तरह है. आप कठिन चीजों को करने का प्रयास करके साख पाते हैं|Upload to Facebook
    किसी कंपनी के लिए एक ब्रांड एक व्यक्ति के लिए उसकी साख की तरह है. आप कठिन चीजों को करने का प्रयास करके साख पाते हैं|
    ~ Jeff Bezos
  • यदि आप एक बार अपने साथी नागरिकों का भरोसा तोड़ दें, तो आप फिर कभी  उनका सत्कार और सम्मान नहीं पा सकेंगे|Upload to Facebook
    यदि आप एक बार अपने साथी नागरिकों का भरोसा तोड़ दें, तो आप फिर कभी उनका सत्कार और सम्मान नहीं पा सकेंगे|
    ~ Abraham Lincoln
  • सत्ता के प्रति विचारहीन सम्मान सत्य का सबसे बड़ा शत्रु है|Upload to Facebook
    सत्ता के प्रति विचारहीन सम्मान सत्य का सबसे बड़ा शत्रु है|
    ~ Albert Einstein
  • मैं असफलता में यकीन नहीं रखती. अगर आपने प्रक्रिया का आनंद उठाया है तो ये असफलता नहीं है|Upload to Facebook
    मैं असफलता में यकीन नहीं रखती. अगर आपने प्रक्रिया का आनंद उठाया है तो ये असफलता नहीं है|
    ~ Oprah Winfrey
  • मैं सबसे महान हूँ, मैंने ये तब कहा जब मुझे पता भी नहीं था कि मैं हूँ।Upload to Facebook
    मैं सबसे महान हूँ, मैंने ये तब कहा जब मुझे पता भी नहीं था कि मैं हूँ।
    ~ Muhammad Ali
ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT