• एक कलाकार प्रकृति का प्रेमी होता है, एक दास है तो दूसरा स्वामी|
    एक कलाकार प्रकृति का प्रेमी होता है, एक दास है तो दूसरा स्वामी|
    ~ Rabindranath Tagore
  • जिसकी इंद्रियाँ वश मेँ रहती है, उसकी उसी की बुद्धि भी स्थिर रहती है|
    जिसकी इंद्रियाँ वश मेँ रहती है, उसकी उसी की बुद्धि भी स्थिर रहती है|
    ~ Maharshi Vedvyas
  • अहिंसा ही परम धर्म है, अहिंसा ही परम तप है, अहिंसा ही परम ज्ञान है, और अहिंसा ही परम पद है|
    अहिंसा ही परम धर्म है, अहिंसा ही परम तप है, अहिंसा ही परम ज्ञान है, और अहिंसा ही परम पद है|
    ~ Maharshi Vedvyas
  • दुखी इन्सान को दान देना ही सबसे बड़ा पुण्य होता है|
    दुखी इन्सान को दान देना ही सबसे बड़ा पुण्य होता है|
    ~ Saint Tukaram
  • जिस समय दुनिया के सभी लोग तुम्हारी प्रशंसा करेंगे तो वह समय तुम्हारे रोने का होगा|
    जिस समय दुनिया के सभी लोग तुम्हारी प्रशंसा करेंगे तो वह समय तुम्हारे रोने का होगा|
    ~ Swami Ramtirth
  • किसी चीज का अंत में विरोध करने से बेहतर है, कि उस चीज का शुरुआत में विरोध कर दो|
    किसी चीज का अंत में विरोध करने से बेहतर है, कि उस चीज का शुरुआत में विरोध कर दो|
    ~ Leonardo da Vinci
  • दुनिया की हर जगह अच्छी होती है, लेकिन उसमे गलत लोग आ जाते है|
    दुनिया की हर जगह अच्छी होती है, लेकिन उसमे गलत लोग आ जाते है|
    ~ Aamir Khan
  • अच्छे तरीको से बिताया गया जीवन लम्बा होता है|
    अच्छे तरीको से बिताया गया जीवन लम्बा होता है|
    ~ Leonardo da Vinci
  • दही में जितना दूध डालते जाओगे वह दही बनता जायेगा| जो लोग संका करते है उनके दिल में हमेशा संका उत्पन्न होता ही रहता है|
    दही में जितना दूध डालते जाओगे वह दही बनता जायेगा| जो लोग संका करते है उनके दिल में हमेशा संका उत्पन्न होता ही रहता है|
    ~ Hazari Prasad Dwivedi
  • कोई भी किसी को एक तरह धक्का नहीं दे सकता|
    कोई भी किसी को एक तरह धक्का नहीं दे सकता|
    ~ Dr. Rajendra Prasad