• आज का घंटा ज्ञान:<br/>
छुप के करने वाला काम कभी सच्चा नहीं होता।<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
इसका ये मतलब नहीं कि आप अपनी सुहागरात नेशनल हाइवे पे मना डालो।
    आज का घंटा ज्ञान:
    छुप के करने वाला काम कभी सच्चा नहीं होता।
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    इसका ये मतलब नहीं कि आप अपनी सुहागरात नेशनल हाइवे पे मना डालो।
  • साला चुदाई के लिए एक चूत नहीं मिलती और<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>

Condom के नए-नए फ्लेवर आ रहे हैं।
    साला चुदाई के लिए एक चूत नहीं मिलती और
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    Condom के नए-नए फ्लेवर आ रहे हैं।
  • लड़का: मैं तुमसे प्यार करता हूँ।<br/>
लड़की: पहले, गिरेहबान में झाँक कर देख।<br/>
लड़का: अरे वाह! इतने बढे।<br/>
लड़की: हरामखोर! अपनी में झाँक।
    लड़का: मैं तुमसे प्यार करता हूँ।
    लड़की: पहले, गिरेहबान में झाँक कर देख।
    लड़का: अरे वाह! इतने बढे।
    लड़की: हरामखोर! अपनी में झाँक।
  • भारत-ऑस्ट्रेलिया का मैच मानो सुहागरात सा हो गया है, इंतज़ार भी है और घबराहट भी।
    भारत-ऑस्ट्रेलिया का मैच मानो सुहागरात सा हो गया है, इंतज़ार भी है और घबराहट भी।
  • आज का घंटा ज्ञान:<br/>
बचपन मे  `भूतों`  के, जवानी मे `चूतों` के और बुढापे मे `यमदूतों` के सपने दिमाग की माँ चोदकर रख देते हैं।
    आज का घंटा ज्ञान:
    बचपन मे "भूतों" के, जवानी मे "चूतों" के और बुढापे मे "यमदूतों" के सपने दिमाग की माँ चोदकर रख देते हैं।
  • जमाने के लिए अभी होली आनी है,<br/>
मैं तो तेरी याद में हर रोज पिचकारी छोड़ता हूँ।
    जमाने के लिए अभी होली आनी है,
    मैं तो तेरी याद में हर रोज पिचकारी छोड़ता हूँ।
  • परिन्दे से किसी ने पूछा, `आपको गिरने का डर नही लगता?`<br/>
परिन्दे ने क्या गजब का जवाब दिया...<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
`ये पंख क्या माँ चुदाने के लिए है?`
    परिन्दे से किसी ने पूछा, "आपको गिरने का डर नही लगता?"
    परिन्दे ने क्या गजब का जवाब दिया...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    "ये पंख क्या माँ चुदाने के लिए है?"
  • ना चूत, ना चुदाई,<br/>
आप सब को आने वाले नए साल की साफ़-सुथरी बधाई!
    ना चूत, ना चुदाई,
    आप सब को आने वाले नए साल की साफ़-सुथरी बधाई!
  • बंता: क्या हुआ इतने परेशान क्यों हो?<br/>
संता: यार बीवी को तो बस बहाना चाहिए लड़ने के लिए।<br/>
बंता: अरे हुआ क्या?<br/>
संता: इतना मूड था सेक्स का, उसने टॉप और जीन्स उतारी तो मैंने पूछ लिया कि तूने ये अपनी बहन की ब्रा और पेंटी क्यों पहनी? बस लड़ने लगी।
    बंता: क्या हुआ इतने परेशान क्यों हो?
    संता: यार बीवी को तो बस बहाना चाहिए लड़ने के लिए।
    बंता: अरे हुआ क्या?
    संता: इतना मूड था सेक्स का, उसने टॉप और जीन्स उतारी तो मैंने पूछ लिया कि तूने ये अपनी बहन की ब्रा और पेंटी क्यों पहनी? बस लड़ने लगी।
  • सच्चा दोस्त वही है जो<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
.<br/>
चूत दिलवा दे।
    सच्चा दोस्त वही है जो
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    चूत दिलवा दे।