• कहीं बेहतर है तेरी अमीरी से मुफलिसी मेरी,<br/>
चंद सिक्कों की खातिर तूने क्या नहीं खोया है;<br/>
माना नहीं है मखमल का बिछौना मेरे पास,<br/>
पर तू ये बता कितनी रातें चैन से सोया है।
    कहीं बेहतर है तेरी अमीरी से मुफलिसी मेरी,
    चंद सिक्कों की खातिर तूने क्या नहीं खोया है;
    माना नहीं है मखमल का बिछौना मेरे पास,
    पर तू ये बता कितनी रातें चैन से सोया है।
  • तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी न रहेगी,<br/>
तुम्हारे बिना चिरागों में रोशनी न रहेगी;<br/>
क्या कहे क्या गुजरेगी इस दिल पर,<br/>
जिंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी न रहेगी।
    तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी न रहेगी,
    तुम्हारे बिना चिरागों में रोशनी न रहेगी;
    क्या कहे क्या गुजरेगी इस दिल पर,
    जिंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी न रहेगी।
  • घरों पे नाम थे नामों के साथ ओहदे थे;<br/>
बहुत तलाश किया कोई आदमी न मिला!
    घरों पे नाम थे नामों के साथ ओहदे थे;
    बहुत तलाश किया कोई आदमी न मिला!
    ~ Bashir Badr
  • अल्फाज तय करते हैं फैसले किरदारों के;<br/>
उतरना दिल में है या दिल से उतरना है।
    अल्फाज तय करते हैं फैसले किरदारों के;
    उतरना दिल में है या दिल से उतरना है।
  • उससे खफा होकर भी देखेंगे एक दिन;<br/>
कि उसके मनाने का अंदाज़ कैसा है।
    उससे खफा होकर भी देखेंगे एक दिन;
    कि उसके मनाने का अंदाज़ कैसा है।
  • वो मेरा सब कुछ है पर मुक़द्दर नहीं;<br/>
काश वो मेरा कुछ न होता पर मुक़द्दर होता।
    वो मेरा सब कुछ है पर मुक़द्दर नहीं;
    काश वो मेरा कुछ न होता पर मुक़द्दर होता।
  • चाहत है या दिल्लगी या यूँ ही मन भरमाया है;<br/>
याद करोगे तुम भी कभी किससे दिल लगाया है।
    चाहत है या दिल्लगी या यूँ ही मन भरमाया है;
    याद करोगे तुम भी कभी किससे दिल लगाया है।
  • मिल ही जाएगा कोई ना कोई टूट के चाहने वाला;<br/>
अब शहर का शहर तो बेवफा हो नहीं सकता।
    मिल ही जाएगा कोई ना कोई टूट के चाहने वाला;
    अब शहर का शहर तो बेवफा हो नहीं सकता।
  • इतना तो बता जाओ खफा होने से पहले;<br/>
वो क्या करें जो तुम से खफा हो नहीं सकते।
    इतना तो बता जाओ खफा होने से पहले;
    वो क्या करें जो तुम से खफा हो नहीं सकते।
  • मैं मर भी जाऊँ, तो उसे ख़बर भी ना होने देना;<br/>
मशरूफ़ सा शख्स है, कहीं उसका वक़्त बर्बाद ना हो जाये!
    मैं मर भी जाऊँ, तो उसे ख़बर भी ना होने देना;
    मशरूफ़ सा शख्स है, कहीं उसका वक़्त बर्बाद ना हो जाये!