• लैला ने तो प्यार किया;<br />
पर मजनू की किस्मत जाग गई;<br/>
मजनू ने इतने प्रेम पत्र लिखे कि;<br/> 
लैला डाकिये के साथ भाग गयी।Upload to Facebook
    लैला ने तो प्यार किया;
    पर मजनू की किस्मत जाग गई;
    मजनू ने इतने प्रेम पत्र लिखे कि;
    लैला डाकिये के साथ भाग गयी।
  • खुशबु ने फूलों को ख़ास बनाया;<br/>
फूलों ने माली को ख़ास बनाया;<br/>
और कमबख्त मोहब्बत ने;<br/>
कितनो को देवदास बनाया!Upload to Facebook
    खुशबु ने फूलों को ख़ास बनाया;
    फूलों ने माली को ख़ास बनाया;
    और कमबख्त मोहब्बत ने;
    कितनो को देवदास बनाया!
  • वाह गालिब तूने क्या शेर मारा है;<br />
वाह गालिब तूने क्या शेर मारा है;<br />
अरे यार! देख जरा शेरनी कितना रो रही है।Upload to Facebook
    वाह गालिब तूने क्या शेर मारा है;
    वाह गालिब तूने क्या शेर मारा है;
    अरे यार! देख जरा शेरनी कितना रो रही है।
  • अय दोस्त मत कर इन हसीनाओं से मोहब्बत;<br />
वह आँखों और बातों से वार करती हैं;<br />
मैंने तेरी वाली की आँखों में देखा है;<br />
वो मुझसे भी प्यार करती है।Upload to Facebook
    अय दोस्त मत कर इन हसीनाओं से मोहब्बत;
    वह आँखों और बातों से वार करती हैं;
    मैंने तेरी वाली की आँखों में देखा है;
    वो मुझसे भी प्यार करती है।
  • दिल की धड़कन रुक सी गई;<br />
सांसें मेरी थम सी गई;<br />
पूछा हमने दिल के डॉक्टर से तो पता चला;<br />
कि सर्दी के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई।Upload to Facebook
    दिल की धड़कन रुक सी गई;
    सांसें मेरी थम सी गई;
    पूछा हमने दिल के डॉक्टर से तो पता चला;
    कि सर्दी के कारण आपकी यादें दिल में जम सी गई।
  • कैसे मुमकिन था किसी और दवा से इलाज़?<br/>
अय ग़ालिब।<br/>
इश्क का रोग था;<br/>
. <br/>
. .<br/>
`माँ की चप्पल से ही आराम आया।`Upload to Facebook
    कैसे मुमकिन था किसी और दवा से इलाज़?
    अय ग़ालिब।
    इश्क का रोग था;
    .
    . .
    "माँ की चप्पल से ही आराम आया।"
  • चली जाती है आये दिन वो बियुटी पार्लोर में यूं;<br />
उनका मकसद है, `मिशाल-ए-हूर` हो जाना;<br />
मगर ये बात किसी भी बेगम की समझ में क्यों नहीं आती;<br />
कि मुमकिन नहीं 'किशमिश' का फिर से 'अंगूर' हो जाना।Upload to Facebook
    चली जाती है आये दिन वो बियुटी पार्लोर में यूं;
    उनका मकसद है, "मिशाल-ए-हूर" हो जाना;
    मगर ये बात किसी भी बेगम की समझ में क्यों नहीं आती;
    कि मुमकिन नहीं 'किशमिश' का फिर से 'अंगूर' हो जाना।
  • तेरी दुनिया में कोई गम ना हो;<br />
तेरी खुशियाँ कभी कम न हो;<br />
भगवान तुझे ऐसी आइटम दे;<br />
जो अग्निपथ की चिकनी चमेली से कम ना हो।Upload to Facebook
    तेरी दुनिया में कोई गम ना हो;
    तेरी खुशियाँ कभी कम न हो;
    भगवान तुझे ऐसी आइटम दे;
    जो अग्निपथ की चिकनी चमेली से कम ना हो।
  • आँखों के रास्ते दिल में उतर गये;<br />
बंदा-नवाज़, आप तो हद से गुज़र गये।Upload to Facebook
    आँखों के रास्ते दिल में उतर गये;
    बंदा-नवाज़, आप तो हद से गुज़र गये।
  • शराब बनी तो मैखाने बने;<br />
हुस्न बना तो दीवाने बने;<br />
कुछ तो बात है आप में;<br />
यूंही नहीं हम `पागल खाने` में।Upload to Facebook
    शराब बनी तो मैखाने बने;
    हुस्न बना तो दीवाने बने;
    कुछ तो बात है आप में;
    यूंही नहीं हम "पागल खाने" में।