• हर किसी के नसीब में कहाँ लिखी होती हैं चाहतें, <br/>
कुछ लोग दुनिया में आते हैं सिर्फ तन्हाइयों के लिए!
    हर किसी के नसीब में कहाँ लिखी होती हैं चाहतें,
    कुछ लोग दुनिया में आते हैं सिर्फ तन्हाइयों के लिए!
  • दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बैठे,<br/>
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे;<br/>
वो हमें एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,<br/>
और हम उनके लिये ज़िन्दगी लुटा बैठे!
    दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बैठे,
    यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे;
    वो हमें एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,
    और हम उनके लिये ज़िन्दगी लुटा बैठे!
  • उन्होंने हमें आजमा कर देख लिया,<br/>
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया;<br/>
क्या हुआ हम हुए जो उदास,<br/>
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया!
    उन्होंने हमें आजमा कर देख लिया,
    इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया;
    क्या हुआ हम हुए जो उदास,
    उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया!
  • फुर्सत में याद करना हो तो मत करना, <br/>
हम तन्हा ज़रूर हैं, मगर फज़ूल नहीं।
    फुर्सत में याद करना हो तो मत करना,
    हम तन्हा ज़रूर हैं, मगर फज़ूल नहीं।
  • कौन कहता है कि मुसाफिर ज़ख्मी नही होते, <br/>
रास्ते गवाह है, बस कमबख्त गवाही नही देते।
    कौन कहता है कि मुसाफिर ज़ख्मी नही होते,
    रास्ते गवाह है, बस कमबख्त गवाही नही देते।
  • हँसी ने लबों पे थिरकना छोड़ दिया है,<br/>
ख्वाबों ने पलकों पे आना छोड़ दिया है,<br/>
नही आती अब तो हिचकियाँ भी,<br/>
शायद आप ने भी याद करना छोड़ दिया है!
    हँसी ने लबों पे थिरकना छोड़ दिया है,
    ख्वाबों ने पलकों पे आना छोड़ दिया है,
    नही आती अब तो हिचकियाँ भी,
    शायद आप ने भी याद करना छोड़ दिया है!
  • दुनिया बहुत मतलबी है, साथ कोई क्यों देगा, <br/>
मुफ़्त का यहाँ कफन नही मिलता, तो बिना गम के प्यार कौन देगा।
    दुनिया बहुत मतलबी है, साथ कोई क्यों देगा,
    मुफ़्त का यहाँ कफन नही मिलता, तो बिना गम के प्यार कौन देगा।
  • तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे,<br/>
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे,<br/>
अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो,<br/>
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।
    तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे,
    खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे,
    अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो,
    तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।
  • कल रात को खोल कर देखी यादों की किताब;<br/>
रो पड़े कि क्या क्या खोया है हमने ऐ ज़िंदगी!
    कल रात को खोल कर देखी यादों की किताब;
    रो पड़े कि क्या क्या खोया है हमने ऐ ज़िंदगी!
  • दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता,<br/>
रोता है दिल जब वो पास नहीं होता;<br/>
बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में,<br/>
और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता!
    दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता,
    रोता है दिल जब वो पास नहीं होता;
    बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में,
    और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता!